डायबिटीज मरीजों को इन फलों को खाने से बचना चा‎हिए, सेहत को हो सकता है नुकसान

नई दिल्ली (ईएमएस)। डाक्टरों द्वारा डायबिटीज के मरीजों को फल खाने के लिए कहा जाता है क्योंकि फलों से शरीर को आवश्यक पोषक तत्व मिलते हैं लेकिन कुछ ऐसे फल भी हैं जिनके सेवन से डायबिटीज के मरीजों को बचना चाहिए क्योंकि यह खून में शुगर का लेवल बढ़ा सकते हैं। आइए जानते हैं यह कौन से फल हैं जिनसे डायबिटीज के रोगियों को परहेज करना चाहिए।

पाइनएप्पल यानी अनानास में चीनी की मात्रा बहुत अधिक होती है, इसीलिए इसके सेवन से बचना चाहिए। इसके अधिक सेवन से ब्लड में ग्लूकोज की मात्रा बढ़ सकती है और ऐसे में शुगर का लेवल भी बढ़ जाता है। अगर आप पाइनएप्पल खाना बेहद पसंद करते हैं तो ऐसे में सिर्फ फल ही खाएं, इसके जूस का सेवन न करें, क्योंकि जूस में पाया जाने वाला ग्लूकोज शरीर में जाकर अधिक नुकसान पहुंचा सकता है। अंगूर बहुत से लोगों को खाना बहुत पसंद है, लेकिन डायबिटीज के मरीजों को इसके सेवन से परहेज करना चाहिए। दरअसल अंगूर में शुगर लेवल हाई होता है, जो शरीर में ग्लूकोज की मात्रा को बढ़ाता है। आम में भी चीनी की मात्रा बहुत अधिक होती है, जो ब्लड में शुगर के लेवल को बढ़ाती है। डायबिटीज के मरीज अगर अधिक मात्रा में आम खाते हैं तो इससे उन्हें हार्ट संबंधी बीमारी या स्ट्रोक का खतरा हो सकता है। चीकू में शुगर लेवल बहुत अधिक होता है।

इसके सेवन से ब्लड में शुगर अचानक बढ़ सकता है, जिससे डायबिटीज के मरीजों को अधिक समस्या हो सकती है। चीकू में कैलोरी भी बहुत अधिक मात्रा में पाई जाती है जो शुगर लेवल बढ़ाने में जिम्मेदार होती है। ऐसे में डायबिटीज मरीजों को चीकू का फल या इसका जूस लेने से बचना चाहिए। डायबिटीज के मरीज अपने भोजन में ऐसी चीजों को बिल्कुल भी शामिल न करें जिनसे शुगर लेवल बढ़ सकता है। हाई कैलोरी फूड जैसे चावल, आलू से परहेज करें। शरीर में डायबिटीज की मात्रा को नियंत्रित करने के लिए अपनी दिनचर्या को अनुशासित रखें। समय पर भोजन करें। ज्यादा देर तक भूखे न रहें, इससे डायबिटीज के मरीजों को चक्कर आना या बेहोश होना जैसे लक्षण हो सकते हैं। रोज नियमित रूप से सुबह मॉर्निंग वॉक पर जाना चाहिए। इससे शरीर में हॉर्मोन्स संतुलित रहते हैं।

तनाव होने पर भी डायबिटीज अनियंत्रित हो सकती है, इसलिए स्ट्रेस से बचें। डायबिटीज एक गंभीर बीमारी है, जिसे नियंत्रित किया जा सकता है लेकिन पूरी तरह से ठीक नहीं किया जा सकता है। डॉक्टरों की मानें तो डायबिटीज को जड़ से नहीं मिटाया जा सकता है, लेकिन कुछ चीजों का ध्यान रखकर इसके खतरे से बचा जा सकता है। हेल्दी लाइफस्टाइल से खून में शुगर की मात्रा नियंत्रित रह सकती है जबकि शरीर को सक्रिय रखने के लिए हेल्दी डाइट और एक्सरसाइज जरूरी है।

Back to top button
E-Paper