देश के कई बड़े नेता थे खालिस्तानी आतंकी जग्गा के न‍िशाने पर, बड़ी आतंकी घटना करने का कर रहा था प्लान


लखनऊ। स्टेट स्पेशल ऑपरेशन सेल अमृतसर पंजाब के इनपुट से सोमवार को राजधानी के जानकीपुरम सेक्टर-सी सचिवालय कॉलोनी के पास से पकड़ा गया आतंकी जग्गा लखनऊ में आतंक की जड़े मजबूत करने आ रहा था। वह यहां व्यापारी (फेरीवाला) अथवा कबाड़ी बनकर रहना चाह रहा था। इसी के माध्यम से वह अपना नेटवर्क लखनऊ के रास्ते पूरे उत्तर प्रदेश में फैलाना चाह रहा था। यह जानकारी स्टेट स्पेशल ऑपरेशन सेल के प्रभारी इंद्रदीप सिंह और लखनऊ पुलिस की पूछताछ में सामने आयी। जग्गा मास्टरमाइंड है। राजधानी समेत पूरे देश के खूफिया तंत्र को अलर्ट कर दिया गया है। खूफिया विभाग से जुड़े लोग खालिस्तानी आतंकियों से जुड़े लोगों की जड़े तलाश में जुट गए हैं।

बड़ी आतंकी घटना करने का कर रहा था प्लान, निशाने पर थे देश के कई नेता
अमृतसर स्पेशल स्टेट स्पेशल ऑपरेशन सेल के इंस्पेक्टर इंद्रदीप सिंह के मुताबिक रविवार को जब खालिस्तानी आतंकी गिरोह के जगरूप सिंह को अमृतसर पुलिस ने पकड़ा तो इसकी भनक लगते ही जग्गा वहां से भाग निकला। जगरूप के पास से पांच अत्याधुनिक पिस्टल भी बरामद हुई थीं। से पूछताछ में पता चला कि जग्गा लखनऊ में रहकर अपना नेटवर्क पूरे उत्तर प्रदेश में फैलाना चाह रहा था। उसकी योजना बड़ी आतंकी घटना करने की है। इसी लिए मध्यप्रदेश से असलहों की खेप खरीदी जा रही थी। जग्गा के निशाने पर देश के कई बड़े नेता थे। यहां से कानपुर, वाराणसी समेत पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पूरा नेटवर्क फैलना चाह रहा था।

विदेशों से कराते थे टेरर फंडिंग
गिरोह में सरगना जग्गा विदेशों से टेरर फंडिंग करता था। इंग्लैंड से परमजीत सिंह पम्मा, जर्मनी से मलतानी सिंह फंडिंग के माध्यम से जग्गा फंडिंग कराता था। इसके अलावा कनाडा और अमेरिका में भी बैठे गिरोह के लोग फंडिंग करते थे। उस फंडिंग से यह लोग यहां असलहों की खेप खरीदते थें।

किसान आंदोलन से जुड़े नेटवर्क की तलाश
डीसीपी उत्तरी रईस अख्तर ने बताया कि जग्गा का किसान आंदोलन से जुड़ा नेटवर्क खंगाला जा रहा है। इसके अलावा हम सब लगातार पंजाब पुलिस के संपर्क में हैं। आतंकी जग्गा से वही लोग पूछताछ कर रहे हैं। इसके अलावा लखनऊ में हुई पूछताछ में जो इनपुट मिले हैं उसके आधार पर खूफिया विभाग और पुलिस की टीमें सक्रिय कर दी गई हैं।

Back to top button
E-Paper