प्रतापगढ़ में जिला अस्पताल के वार्डों में घुसा पानी, डीएलएड परीक्षार्थी हुए परेशान

????????????????????????????????????

प्रतापगढ़। विगत 40 घंटे से लगातार हो रही वर्षा से पूरा शहर जहां पानी-पानी हो गया, वहीं गोडे़ गांव में एक कोटेदार का मकान बगल के घर पर गिर जाने से अपनी बहन के घर आए एक नवयुवक की दर्दनाक मौत हो गई और तीन अन्य घायल हो गये। 18 वर्षीय मृतक रमजान निवासी रेड़ी जेठवारा का है। वह अपनी बहन चांदनी के घर गोडे़ गांव आया था। उसकी मौत की खबर सुनकर घर में कोहराम मचा हुआ है। घायलों में चांदनी, उसका पति रोशन तथा उसकी तीन वर्ष की लड़की जैनब को उपचार के लिये जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

 
उधर बाबा बेलखरनाथ धाम में बरसात में कच्ची बखरी गिरने से दबकर अधेड़ महिला की मौत हो गई। मृतक उर्मिला मिश्रा (55) वर्ष पत्नी बुद्धिनाथ मिश्रा बीती रात कच्चे मकान में सो रही थी तभी लगभग रात्रि साढे़ तीन बजे भर-भराकर पूरा कच्चा मकान गिर पड़ा जिसमे अधेड़ महिला की दबकर मौत हो गई। इसके अलावा जिले के विभिन्न मार्गों पर पेड़ गिरे हैं जिससे आवागमन बाधित हुआ है। जिले में कुल 168 मिमी औसत बरसात हुई। 24 घंटे के भीतर सदर में 200, पट्टी 178, कुंडा 175, लालगंज 165, रानीगंज 122 मिमी वर्षा हुई है। भारी वर्षा से राजकीय इंटर कालेज परिसर तालाब दिर्खा दे रहा था। यहां डीएलएड की परीक्षा हो रही है। परीक्षार्थियों को पानी में घुसकर कालेज के भवन में जाकर परीक्षा देनी पड़ी। सबसे बुरी हालत राजकीय मेडिकल कालेज से सम्बद्ध जिला चिकित्सालय की थी जहां चिकित्सालय जलमग्न दिखाई दे रहा था। इमरजेंसी के सामने जहां जलभराव दिखाई दे रहा था, वहीं सर्जिकल वार्ड में पानी घुस गया था। इसके अलावा पुलिस अधीक्षक कार्यालय, तिलक इंटर कालेज में भारी जलभराव दिखाई दिया। सड़कों पर कुछ ही देर में पानी साफ हो गया। नाले-नालियों की सफाई होने से नाले से शहर का पानी बाहर निकल गया। कहीं-कहीं अवरोध था, वहीं पर जलभराव की स्थिति आई। जिलाधिकारी के आदेश से कक्षा-1 से 8 तक के सभी स्कूल बंद थे लेकिन इंटर कालेज व डिग्री कालेज में छात्र-छात्राएं बहुत कम आए। लगातार वर्षा बुधवार को भोर में तीन बजे शुरु हुई थी, तो गुरुवार की शाम तक होती रही। बीच-बीच में वर्षा कम हुई लेकिन जब लोग बाहर निकले तो फिर पानी तेज हो गया। यह क्रम शाम तक चलता रहा। शहर व जिले के बाजारों में दुकानंे खुली लेकिन वर्षा के कारण ग्राहक बहुत कम आए।

कच्चे मकान के ढहने से तीन बकरियां मरी, महिला घायल

लालगंज, प्रतापगढ़। लगातार बारिश के चलते कच्चा मकान अचानक भरभराकर ढह गया। घटना मे मकान मे बंधी पांच बकरियों मे से तीन ने दम तोड दिया। वहीं एक महिला को गंभीर चोटें भी आई है। उदयपुर थाना के आमीशंकरपुर निवासी मोतीलाल प्रजापति अपनी पत्नी रिंकी तथा मां उर्मिला के साथ बीती बुधवार की रात घर मे सो रहा था। मकान के बरामदे मे एक किनारे पांच बकरियां बंधी हुई थी। देर रात करीब एक बजे मकान का बाहरी हिस्सा ढह गया। इसके चलते तीन बकरियों की मौत हो गयी। जबकि मोती लाल की मां उर्मिला भी गंभीर रूप से घायल हो गयी। आननफानन मे लोगों ने उर्मिला को इलाज के लिए सांगीपुर सीएचसी पहुंचवाया।

पेड़ गिरने से पट्टी ढकवा मार्ग बाधित, घर हुए जलमग्न
पट्टी, प्रतापगढ़। दो दिन से लगातार हो रही बारिश से और तेज हवा चलने के कारण गुरुवार की सुबह सदहा और अमरगढ़ के बीच में एक विशालकाय पेड़ गिरने के कारण मार्ग बाधित हो गया। रात से ही बारिश होने के कारण राहगीर अपना राह बदल कर दूसरे रास्ते से निकलते हुए दिखाई दिए तो वहीं थोड़ी देर बाद प्रशासन ने जेसीबी मंगवा कर रास्ते से पेड़ को हटवाया तब आवागमन फिर से प्रारंभ हो सका। उधर आसपुर देवसरा ब्लाक क्षेत्र के कई गांव में बरसात का पानी घरों में घुस गया है। बुधवार रात से हो रही मूसलाधार बरसात ने ग्रामीणों का जीवन अस्त व्यत कर दिया। पूरे दलपतशाह गांव में समुचित जल निकासी ना होने के कारण लोगों की घरों के अंदर बरसात का पानी प्रवेश कर गया है। उधर पट्टी मेला ग्राउंड हुआ पुनः जल मग्न हो गया है। रात्रि में हुई बारिश के कारण पट्टी मेला ग्राउंड में रहने वाले लोगों के घरों में पानी घुस गया है जिससे मेला ग्राउंड वासियों को दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है।

Back to top button
E-Paper