प्रधानमंत्री ने सशस्त्र बलों से संबद्ध 51 हजार से अधिक नए कर्मचारियों को नियुक्ति पत्र किए वितरित

नई दिल्ली, (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार सुबह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से नवनियुक्त सशस्त्र कर्मियों को 51 हजार से अधिक नियुक्ति पत्र वितरित किए। रोजगार मेला देशभर में 45 स्थानों पर आयोजित किया गया।

उत्तर प्रदेश का उदाहरण देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि कानून और शासन का राज स्थापित होने पर स्थानीय अर्थव्यवस्था को गति मिलती है। उन्होंने कहा कि कभी यूपी विकास के मामले में बहुत पीछे था और अपराध के मामले में बहुत आगे था। लेकिन अब कानून का राज स्थापित होने से यूपी विकास की नई ऊंचाई छू रहा है।

रोजगार मेला कार्यक्रम के माध्यम से, गृह मंत्रालय विभिन्न केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) जैसे केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ), सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ), सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी), असम राइफल्स, केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ), भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के साथ-साथ दिल्ली पुलिस में कर्मियों की भर्तियां की गई हैं। देशभर से चुने गए नए कर्मी गृह मंत्रालय के तहत विभिन्न संगठनों में कांस्टेबल (जनरल ड्यूटी), सब-इंस्पेक्टर (जनरल ड्यूटी) और गैर-जनरल ड्यूटी कैडर पदों जैसे विभिन्न श्रेणी के पदों पर योगदान देंगे।

इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने नवनियुक्त कर्मियों को संबोधित भी किया। प्रधानमंत्री ने अमृतकाल में अमृतरक्षक बनने वालों को बधाई दी और कहा कि रोजगार मेले का आयोजन एक ऐसे माहौल में हो रहा है, जब देश गर्व और आत्मविश्वास से भरा हुआ है। चंद्रयान और उसका रोवर प्रज्ञान लगातार चंद्रमा से ऐतिहासिक तस्वीरें भेज रहा है। ऐसे समय में आप अपने जीवन की सबसे महत्वपूर्ण यात्रा शुरू करने जा रहे हैं। नवनियुक्त कर्मियों को आईजीओटी कर्मयोगी पोर्टल पर एक ऑनलाइन मॉड्यूल ‘कर्मयोगी प्रारंभ’ के माध्यम से खुद को प्रशिक्षित करने का अवसर भी मिल रहा है। जहां ‘कहीं भी किसी भी उपकरण’ कोसीखने के प्रारूप के लिए 673 से अधिक ई-लर्निंग पाठ्यक्रम उपलब्ध कराए गए हैं।

Back to top button