बड़ा खुलासा : अमेरिका के कब्जे में हैं यूएफओ और एलियंस के शव-पूर्व अधिकारी का दावा

वॉशिंगटन। एलियंस है या नहीं? इस सवाल पर अक्सर चर्चा होती है। कई सालों से वैज्ञानिक इस सवाल का जवाब तलाश रहे हैं कि क्या इस ब्रह्मांड में इंसानों के अलावा एलियंस (परग्रहवासी) की भी मौजूदगी है। यह जिज्ञासा हमेशा हमारे मन में रहती है, पर सही जवाब अभी तक नहीं मिल पाया है। अमेरिका के एक पूर्व अधिकारी और व्हिसलब्लोअर डेविड ग्रुश ने बुधवार को एक कांग्रेस समिति के सामने खुलासा किया कि अमेरिकी सरकार के पास अनआईडेंटिफाई फ्लाइंग ऑब्जेक्ट (यूएफओ) से जुड़े कुछ सबूत मौजूद है। पूर्व खुफिया अधिकारी ने बुधवार को कांग्रेस में गवाही दी कि अमेरिका दशकों से उड़नतश्तरियों (यूएफओ) को पकड़ने की बात छुपा रहा है। हालांकि, पेंटागन ने उनके दावों का खंडन किया है।


पूर्व अमेरिकी खुफिया अधिकारी डेविड ग्रुश ने इसी तरह का दावा कर हड़कंप मचा दिया है। उनका कहना है कि अमेरिकी सरकार के पास यूएफओ और एलियंस के शव हैं। ग्रुश ने वाशिंगटन में हाउस ओवरसाइट कमेटी के सामने सुनवाई के दौरान यह बयान दिया। दरअसल, जून महीने में पूर्व खुफिया अधिकारी डेविड ग्रुश ने दावा किया था कि अमेरिकी सरकार के पास यूएफओ और दूसरे ग्रह के जीवों के शव रखे हैं। इस दावे के बाद वाशिंगटन में हाउस ओवरसाइट कमेटी ने मामले की सुनवाई शुरू की। इसके तहत बुधवार 26 जुलाई को ग्रुश ने अपने बयान में इस बात को दोहराया।


ग्रुश से कमेटी ने पूछा कि क्या अमेरिकी सरकार के पास दुर्घटनाग्रस्त यूएफओ के पायलट हैं? ग्रुश ने उत्तर दिया, हां, बायोलॉजिक्स इनमें से कुछ प्राप्त हुए थे। उन्होंने आगे कहा कि ये जीव गैर-मानवीय थे और दावा किया कि इस बात की पुष्टि उन लोगों ने की जिनके पास इस तरह का पूरा ज्ञान और अनुभव है। गौरतलब है कि डेविड ग्रुश ने 2023 तक अमेरिकी रक्षा विभाग की एजेंसी के भीतर अंतरिक्ष और धरती के बीच अजीबो-गरीब कनेक्शन और घटनाओं के विश्लेषण का नेतृत्व किया है। जून में, उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार अमेरिकी कांग्रेस से दूसरे ग्रह के लोगों के सबूत छिपा रही थी। उनके आरोपों के तूल पकड़ने के बाद रिपब्लिकन के नेतृत्व वाली निरीक्षण समिति ने उनके दावों की जांच शुरू की।


सुनवाई के दौरान, ग्रुश ने सांसदों को बताया कि सरकार ने गैर-मानवीय जीव बरामद किया था, लेकिन ग्रुश ने यह भी स्वीकार किया कि उन्होंने खुद कभी भी ऐसे शरीर को नहीं देखा। उनके दावे हाई लेवल खुफिया अधिकारियों के साथ बातचीत पर आधारित हैं। ग्रुश ने यह भी कहा कि अमेरिकी सरकार ने एक कार्यक्रम चलाया था, जिसमें दुर्घटनाग्रस्त यूएफओ को एकत्र किया गया और उन्हें फिर ठीक करने का प्रयास किया गया था। अमेरिकी सरकार ने सबूत छिपाने के ग्रुश के दावों का खंडन किया है। रक्षा विभाग के एक प्रवक्ता ने द गार्जियन को बताया कि जांचकर्ताओं को दावों को पुष्ट करने के लिए कोई सत्यापन योग्य जानकारी नहीं मिली है कि अलौकिक सामग्रियों के कब्जे या रिवर्स-इंजीनियरिंग के संबंध में कोई कार्यक्रम अतीत में मौजूद था या वर्तमान में मौजूद है।

Back to top button