बाराबंकी : पत्नी और तीन बच्चों की हत्या के बाद फांसी के फंदे पर लटका युवक, सुसाइड नोट में लिखा….

  • युवक ने किया था प्रेम विवाह, परिवार से नहीं करता था बात
  • सुसाइड नोट में आर्थिक तंगी को बताया घटना की वजह


बाराबंकी। उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में नगर कोतवाली क्षेत्र स्थित सफेदाबाद कस्बे में शुक्रवार को घर के अन्दर एक ​ही परिवार के पांच लोगों के शव मिले। इनमें दंपत्ति और उसके तीन बच्चे शामिल हैं। कमरे से सुसाइड नोट मिला है जिसके मुताबिक आर्थिक तंगी के चलते परिवार ने यह कदम उठया है। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

नगर कोतवाली क्षेत्र के सफेदाबाद में रहने वाले विवेक शुक्ला, उनकी पत्नी अनामिका, दो बेटियां पोयम शुक्ला (10), ऋतु शुक्ला (07) और बेटा बबल शुक्ला (07) वर्ष के शव आज घर के अन्दर लटके पाए गये। मृतक विवेक शुक्ला के भाई मनोज ने बताया कि दो दिन से कमरे से कुछ आहट नहीं मिली तो शुक्रवार को मां कमरे में देखने गई तो विवेक का शव फांसी पर लटका देखकर उसके होश उड़ गये। मां की चीख-पुकार सुनकर परिवार व आसपड़ोस के लोग पहुंचे। मनोज ने बताया कि जब वह दरवाजा तोड़कर कमरे के ​अंदर पहुंचा तो भाभी, भतीजे-भतीजी के शव जमीन पर पड़े थे और भाई का शव फांसी पर लटका देखा। इसके बाद पुलिस को सूचना दी।

सूचना पाकर कई थानों की पुलिस, फॉरेंसिक टीम ने घटनास्थल पर पहुंचकर जांच की। इस दौरान घटनास्थल से विवेक शुक्ला का लिखा एक सुसाइड नोट बरामद हुआ जिसमें लिखा है कि पहले उसने मोबाइल रिपेयर और फिर मोटर गैराज का काम किया। जब दोनों काम में कामयाबी नहीं मिली तो इसके बाद उसने रियल स्टेट का काम किया था। मार्च में लॉकडाउन के कारण उसका यह कारोबार भी ठप हो गया। इसलिए वह अपने परिवार को सुख नहीं दे पाया। शुरुआती जांच में पुलिस को ऐसा लग रहा है कि पत्नी, बच्चों की हत्या करने के बाद विवेक ने आत्महत्या की है।

पुलिस अधीक्षक अरविन्द चतुर्वेदी ने बताया कि जांच में पुलिस को यह भी पता चला है कि विवेक ने प्रेम विवाह किया था। शादी के बाद से ही विवेक अपने माता-पिता से ज्यादा बातचीत नहीं करता था। फिलहाल पुलिस शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच गहनता से कर रही है।

Back to top button
E-Paper