बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने अपनी ही पार्टी के पूर्व मंत्री और विधायक को कहे अपशब्द, ऑडियो वायरल

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत से भाजपा सांसद वरुण गांधी का दो दिन के अंदर एक और ऑडियो वायरल हुआ है। इसमें सांसद अपने ही पार्टी के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री विनोद तिवारी, किसान नेता बीएम सिंह और शहर सीट से भाजपा विधायक संजय सिंह गंगवार को अपशब्द कहते सुनाई दे रहे हैं। हालांकि यह ऑडियो लॉकडाउन के समय का बताया जा रहा है। क्योंकि बातचीत में वरुण गांधी ने लॉकडाउन शब्द का प्रयोग किया है। वरुण ने कॉलर सुमित सक्सेना को धमकी देते हुए कहा कि मैं लॉकडाउन के बाद आता हूं तब पीलीभीत में या तो तुम रहोगे या वरुण गांधी रहेगा। एक को जिला छोड़ना पड़ेगा।

सांसद को शक था कि कॉल करने वाला पीठ पीछे गाली देता है
दरअसल, सुमित सक्सेना ने सांसद वरुण गांधी को फोन किया था। वे नौगवां पकड़िया के रहने वाले हैं। सांसद ने कहा कि आप (सुमित) मुझे इधर-उधर गाली दे रहे थे। कोई सरदारजी आपके पास थे, आप गाली दे रहे थे। मैं लॉकडाउन के बाद आऊंगा, तब मिलूंगा। आप मेरा नेचर जानते हो। मैं दुश्मनी और दोस्ती अंत तक निभाता हूं। मां (मेनका गांधी) विनोद और बीएम सिंह की बात बर्दाश्त करती थी। आपने कहा था कि मैं संजय गंगवार (शहर विधायक) के साथ हूं। इन मां-बेटे (मेनका-वरुण गांधी) को जिले से भगाऊंगा। मैं आपको सम्मान के साथ बुलाऊंगा तो आप चेयरमैनी छोड़िए कि आप अपने घर वालों के वोट भी नहीं पाएंगे। इस दौरान कई बार वरुण गांधी ने अपशब्दों का प्रयोग किया। वहीं, सुमित बार-बार सफाई दे रहा था।

एक वोटर से कहा था- मैं तुम्हारे बाप का नौकर नहीं
दो दिन पहले सोमवार को सांसद वरुण गांधी का पहला ऑडियो सामने आया था। इसमें एक युवक ने रात के 9:30 बजे सांसद गांधी को फोन कर उनसे मदद लेनी चाही। लेकिन, सांसद ने उसे डांटकर कह दिया कि मैं तुम्हारे बाप का नौकर नहीं हूं।

2009 में पहली बार सांसद चुने गए थे वरुण गांधी
वरुण गांधी वर्तमान में पीलीभीत से सांसद हैं। वे 2009 में पहली बार सांसद चुने गए थे। 2009 और 2014 में वे सुल्तानपुर के सांसद थे। लेकिन, इस बार 2019 के लोकसभा चुनाव में उनकी सीट उनकी मां के निर्वाचन सीट से बदल दी गई थी। अब सुल्तानपुर से उनकी मां मेनका गांधी सांसद हैं।

Back to top button
E-Paper