भोपाल में चार साल के दो बच्चों ने भी दी कोरोना को मात

भोपाल । उम्र से बड़ा हौसला और उससे भी बड़ी जीत होती है। इसका प्रमाण मंगलवार को भोपाल में देखने को मिला, चिरायु अस्पताल से कोरोना को परास्त कर 33 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। इनमें दो चार के बच्चे भी शामिल थे, जिन्होंने कोरोना को मात देकर यह साबित किया कि हौसला उम्र से बड़ा से होता है। 

भोपाल के मंगलवारा क्षेत्र में रहने वाले दोनों चार वर्षीय बच्चों की तबियत खराब होने के बाद उनके सेम्पल जांच के लिए भेजे गए थे और 23 मई को रिपोर्ट आने के बाद वे कोरोना संक्रमित पाए गए थे। इसके बाद उन्हें चिरायु अस्पताल में भर्ती किया गया था। दोनों बच्चों की मां और मौसी भी संक्रमित पाई गई थी। मंगलवार को दोनों बच्चों को पूरी तरह स्वस्थ होने के बाद चिरायु अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया, तब उनकी मासूमियत और चेहरे की खुशी बयां कर रही थी कि हमने कोरोना से जंग जीत ली है और इसके संक्रमण से पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर जा रहे हैं। दोनों बच्चों और उनके परिजनों ने इस जंग में जीत के लिए शासन प्रशासन और चिरायु अस्पताल प्रबंधन का आभार व्यक्त किया है।

Back to top button
E-Paper