मस्ती बढ़ाने को वियाग्रा खा ली युवती, जानिए मज़ा कैसे बना सज़ा !

वियाग्रा, एक प्रकार की दवा होती है जो पुरूषों में इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन के इलाज के काम आती है. साधारण तौर पर लोग इसे उत्‍तेजना लाने के लिए खाने वाली दवा मानते हैं. अगर यही दवा महिलाएं खा लें तो क्‍या होगा? क्‍या महिलाओं में भी वियाग्रा के सेवन से उत्‍तेजना आ सकती है. ऐसे कई सवाल हजारों लोगों के मन में उठते हैं.

आज हम आपको एक ऐसी ही लड़की के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसको संभोग का मज़ा लेना महंगा पड़ गया. दरअसल, ये पूरी घटना लंदन की रहने वाली एक लड़की से जुडी है. जानकारी के अनुसार लड़की पिछले तीन सालों से एक लड़के के साथ रिलेशनशिप में रह रही थी. इसी बीच वह संभोग के पुराने तरीकों से थक चुकी थी और कुछ नया और बेहतर करने की चाह में उसने वियाग्रा खा ली.

जी, अपने अंतरंग पलों को और हसीन बनाने के लिए उसने वियाग्रा वाली गम चबा ली. ये लड़की लंदन शहर की जानी मानी लेखिका हैं. इस लड़की का नाम जैक्सन एडवर्ड है. लड़की के अनुसार वह अपने बॉयफ्रेंड के साथ बेडरूम में एक्साइटमेंट को और बढाना चाहती थी. इसलिए उसने वियाग्रा की गम खरीदी. जैक्सन ने बताया कि तीन साल के इस रिलेशन के चलते अब उसे संभोग करने में वो मज़ा नहीं आ रहा था जो पहले आता था. जिसके कारण उसकी दोस्त ने उसको चबाने वाली वियाग्रा के बारे में बताया.

जैक्सन ने जब उस गम को खाने के बारे में पुछा तो दुकानदार ने बताया कि इस गम को लगातार 8 मिनट तक जैक्सन को चबाना होगा जिसके बाद उसे कम से कम 20 मिनट उतेजना बढने का इंतज़ार करना होगा. जैक्सन ने बॉयफ्रेंड के साथ डिनर ख़त्म किया और ठीक वैसे ही गम को चबा कर इंतज़ार करना शुरू कर दिया.

जैक्सन के अनुसार डिब्बे पर लिखा था कि ये वियाग्रा गम एरोटिक मूड बनाने में सहायक सिद्ध होती है. मगर आधे घटने के बाद भी जैक्सन का मूड नहीं बना और ना ही वह एक्साइटेड हई. काफी इंतज़ार के बाद आखिरकार वह अपने बॉयफ्रेंड के साथ बेडरूम चली गई मगर वहां भी उस गम का कोई असर ना हुआ.

जैक्सन ने बताया कि वियाग्रा का ख्याल दिल से निकाल कर उसने उस पल को महसूस करना शुरू कर दिया जिसके बाद उसको कुछ अलग ही सेंसेशन फील होने लगी. जैक्सन के बॉयफ्रेंड ने इस मूड का कारण वियाग्रा का असर बताया. मगर वह आज तक नहीं समझ स्की कि उसके उस ख़ास पल का असर वियाग्रा थी या उसकी खुद की फीलिंग.

Back to top button
E-Paper