महिला मित्र की ब्लैकमैलिंग से परेशान होकर वेटनरी हॉस्पिटल कर्मचारी ने की थी आत्हत्या, इस तारा खुला राज़

भोपाल(ईएमएस)। जहांगीराबाद थाना इलाके में करीब दो साल पहले युवक द्वारा जहरीला पदार्थ खाकर खुदकुशी करने के मामले में पुलिस ने उसकी महिला मित्र के खिलाफ खुदकुशी के लिये उकसाने का मामला कायम किया है। जॉच में सामने आया कि आरोपी महिला मृतक से पैसो की मांग करती थी, और न देने पर अड़ीबाजी करते हुए उसकी पुलिस में रिर्पोट करने की धमकी देती थी।

पुलिस के अनुसार वाल्मीकि मोहल्ला कॉलोनी बापू कॉलोनी में रहने वाला 38 वर्षीय राजकुमार जौहर वेटनरी कॉलेज में साफ-सफाई का काम करता था। उसने करीब दो साल पहले 9 नवंबर 2021 को राजकुमार ने जहरीला पदार्थ खा लिया था। बाद में इलाज के दौरान अस्पताल में 17 नवंबर को उसकी मौत हो गई थी। मर्ग कायम कर जॉच में जुटी पुलिस टीम को घटनास्थल से नो पेज का सुसाइड नोट मिला था। इसमें उसने अपनी महिला मित्र का नाम लिखते हुए उसे अपनी मौत को जिम्मेदार बताया था। पुलिस ने सुसाइड नोट के आधार पर आत्हत्या के कारणो की जॉच शुरु की। मर्ग जॉच में सामने आया कि राजकुमार की मोहल्ले में रहने वाली मीना मौर्य नाम की युवती से दोस्ती थी। बाद में उनके बीच नजदीकियां बढ़ने पर राजकुमार महिला मित्र मीना की पैसे देकर मदद करने लगा। थोड़ समय बाद युवती की शादी हो गई और जहॉगिराबाद इलाके में ही जिंसी चौराहे के पास अपने पति व बच्चों के साथ रहने लगी। शादी के बाद भी मीना राजकुमार से पैसों की मदद मांगती रहती। राजकुमार कभी-कभी उसके मांगने पर पैसे दे देता था। बाद में उसने महिला से कहा कि मेरा भी परिवार है, जिसके कारण मेरे पास पैसे नहीं बचते हैं, और मेरे पास पैसै नहीं हुए तो में नहीं दे सकूंगा। इसके बाद भी महिला ने उससे पैसे मांगती रही, और न देने पर वह उसकी पत्नी को सारी बात बताने के साथ उसे बदनाम करने के साथ ही उसकी पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराने की धमकी देकर ब्लैकमेल करने लगी थी। इसी कारण परेशान होकर राजकुमार ने खुदकुशी कर ली थी। महिला मित्र के खिलाफ मामला कायम कर पुलिस आगे की कार्यवाही कर रही है1

Back to top button