यह छोटा सा फूल आपको बना सकता है कंगाल से करोड़पति, पोस्ट पढ़कर जानिए कैसे

तंत्र क्रियाओं में कई प्रकार की वनस्पतियों का उपयोग किया जाता है, नागकेसर का फूल भी इनमें से एक है। तंत्र क्रियाओं में नागकेसर को बहुत ही शुभ वनस्पति माना गया है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार, नागकेसर एक धनदायक फूल है। इससे जुड़े कुछ आसान उपाय करने धन लाभ, व्यापार में मुनाफा आदि फायदे हो सकते हैं।

ये उपाय इस प्रकार हैं-

-चांदी की एक छोटी सी ढक्कन वाली डिबिया लें। इसमें नागकेसर व शहद भरकर शुक्ल पक्ष के शुक्रवार की रात को या अन्य किसी शुभ मुहूर्त में अपने गल्ले या तिजोरी में रख दें। आपकी धन में अचानक वृद्धि होने लगेगी।

-हर शुक्रवार को 1 नागकेसर का फूल लें और इसकी पूजा करें। इसके बाद इसे एक साफ सफेद कपड़े में लपेटकर अपनी दुकान के गल्ले या अपने ऑफिस के केश बॉक्स में रखें तो धन की आवक कभी कम नहीं होगी।

-किसी पूर्णिमा से शुरू कर अगली पूर्णिमा तक रोज शिवलिंग पर नागकेसर का फूल चढ़ाएं। आखिरी दिन चढ़ाए गए फूल को अपने घर ले आएं। यह फूल धन संबंधी आपकी सभी समस्याओं को समाप्त कर देगा।

-व्यापार में हानि हो रही है तो किसी शुभ मुहूर्त में निर्गुण्डी (एक प्रकार की वनस्पति) की जड़, नागकेसर के फूल और पीली सरसों के दाने एक छोटी पोटली में बांधकर दुकान के बाहर टांग दें। इससे व्यापार में वृद्धि होती है।

-नागकेसर के फूल, साबूत हल्दी, सुपारी, एक सिक्का, तांबे का टुकड़ा और चावल को कपड़े में बांध दी लक्ष्मी के सामने रखें और पूजा करें। बाद में इस पोटली को अपनी तिजोरी में रखें। इससे घर में बरकत बनी रहेगी।

-आपको बता दें नागकेसर कई औषधीय गुणों से भी भरा हुआ है। इसके साथ पीपल, सोंठ, काली मिर्च और घी के साथ लेने पर गर्भ ठहरने लगता है। इससे संतान प्राप्ति की इच्छा भी पूरी हो जाती है। इसके लिए सभी चीज़ों को बराबर मात्रा में लेकर पीसकर छान लें और इसमें घी मिलकर लगातार 7 दिनों तक इसका सेवन करें। गर्भवती होने के लिए नागकेसर को सुपारी के चूर्ण के साथ मिलाकर भी खाया जा सकता है। इससे शारीरिक कमज़ोरी और अक्षमता भी दूर हो जाती है। इससे गर्भ ठहरने में फ़ायदा होता है।

Back to top button
E-Paper