यूपी में कोरोना : पिछले 24 घंटों में आए 28 हजार से ज्‍यादा केस, 372 लोगों ने थमी सांसे

नई दिल्ली:  आबादी के लिहाज से देश के सबसे बड़े राज्‍य उत्‍तर प्रदेश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 28,076 नए केस सामने आए हैं जबकि इस अवधि में 372 लोगों की कोरोना संक्रमण ने जान ली है. यूपी के लिहाज से राहत की खबर है तो वह यह कि पिछले 24 घंटों में 33,117 लोग कोरोना से रिकवर हुए हैं. यह संख्‍या राज्‍य में पिछले 24 घंटों में दर्ज हुए नए केसों (28,076 मामले) से अधिक है. पिछले 24 घंटों के 13466 केसों को मिलाकर यूपी में अब तक कुल 14,53,679 केस दर्ज हो चुके हैं. राज्‍य में कोरोना के एक्टिव केसों की संख्‍या 2,54,118 है.

स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव आलोक कुमार ने शुक्रवार को पत्रकारों को बताया कि राज्य में पिछले 24 घंटे में 372 लोगों की हुई मौत के साथ ही अब तक इस संक्रमण से 14,873 लोगों की मौत हो चुकी है.पिछले 24 घंटे में 28,076 नये मरीज मिलने के बाद अब तक हुए कुल संक्रमितों का आंकड़ा 14,53,679 हो गया है.इस समय राज्‍य में कुल 2,54,118 संक्रमित उपचाराधीन हैं. राज्य में पिछले 24 घंटे में 33,117 संक्रमित संक्रमण मुक्त हुये हैं और अब तक कोरोना संक्रमण से 11,84,688 लोग स्वस्थ हो चुके हैं. शुक्रवार को जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार उप्र की राजधानी लखनऊ में 1,982 नये संक्रमित पाये गये और 25 लोगों की मौत हो गई. इसी अवधि में मेरठ में 1,817, गौतमबुद्धनगर में 1,288 और सहारनपुर में 1,122 नये संक्रमित मिले हैं.

बुलेटिन में कहा गया है कि सर्वाधिक 31 संक्रमितों की मौत कानपुर में हुई है जबकि हापुड़ में 30, गाजीपुर में 18, हरदोई में 16, गोरखपुर में 15, मेरठ और गौतमबुद्धनगर में 12-12, प्रयागराज व सोनभद्र में 11-11 तथा चंदौली में 10 और संक्रमितों ने अपनी जान गंवा दी है. गुरुवार को राज्य में कोरोना नमूनों के 2.42 लाख से अधिक परीक्षण किये गये और अब तक 4.26 करोड़ से अधिक नमूनों का परीक्षण किया गया है. अपर मुख्य सचिव, सूचना नवनीत सहगल ने कहा कि एक समीक्षा बैठक के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य में टीकाकरण तेजी से चल रहा है और अब तक 1.34 से अधिक टीके की खुराक दी गई है. उन्होंने बताया कि उच्च संक्रमण दर वाले सात जिलों में, 18-44 आयु वर्ग के 85,566 लोगों को भी टीका लगाया गया है.मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया है कि दस मई से 18-44 आयु वर्ग के लोगों के लिए टीकाकरण अभियान और अधिक जिलों में किया जाएगा.उन्होंने कहा कि सरकार ने सभी सरकारी और निजी कार्यालयों में बीमार, पृथक-वास में कर्मचारियों और गर्भवती महिला कर्मचारियों को ”घर से काम करने” की सुविधा देने का फैसला किया है.

Back to top button
E-Paper