यूपी में बारिश बनी आफत, खतरे में पड़ी धान, हाल ही में बोई गई बंदगोभी की फसल भी हुई बर्बाद

हापुड़ में लगातार दो दिनों से हा रही बारिश से किसानों की चिंताए बढ़ गई है। बेमौसम बरसात से धान, गन्ना, आलू व सरसों की फसल बर्बाद होने की कगार पर है। साथ ही बंदगोभी के किसानों को भी भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। मंगलवार को दोपहर में धूप निकलने के बाद किसानों ने कुछ हद तक राहत की सांस ली है।

पारा गया नीचे, फसल हुई चौपट
जिले में अक्टूबर महीने के मध्य हुई बारिश ने जनजीवन अस्त व्यस्त कर दिया है। अधिकतम तापमान 29 से गिरकर न्यूनतम 19 डिग्री तक पहुंच गया है। इसके अलावा सबसे ज्यादा नुकसान गंगा किनारे बसे गढ़ खादर के किसानों को हुआ है। जहां पर खेतों में पानी भरने से फसलों का नुकसान बताया जा रहा है।

हाल ही में बोई गई बंदगोभी की फसल हुई बर्बाद
पिछले दो दिन की बारिश के चलते बंदगोभी के किसानों को काफी नुकसान हुआ है।जिन्होंने हाल में बंदागोभी बोई है, उनकी फसल बर्बाद हो गई है। अगर बारिश नहीं रुकी तो तैयार खड़ी फसल में बीमारी फैलने का का खतरा उत्पन्न हो रहा है। जिससे किसान बेहद चिंतित है।

सरसों की फसल बारिश में लगी गलने
किसानों के अनुसार बारिश होने से जिन खेतों में पानी भर गया है। उसमें सरसों की फसल गल गई है। सरसों की फसल को भारी नुकसान हो गया है। किसान ने बताया कि इस बार बारिश से किसानों को भारी नुकसान हो रहा है।

Back to top button
E-Paper