लखनऊ, अहमदाबाद IPL में नई टीमें, BCCI को हुई 12 हजार करोड़ की कमाई

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) की दो नई टीमों का ऐलान कर दिया गया। RP संजीव गोयनका ग्रुप ने लखनऊ की टीम को 7,090 करोड़ रुपए में खरीदा है। वहीं CVC कैपिटल ने 5200 करोड़ रुपए में अहमदाबाद की टीम खरीदी है। BCCI को दोनों टीमों से 12 हजार करोड़ की कमाई हुई है, जो उम्मीद से बहुत ज्यादा अधिक है।

ये भी थे दावेदार
दो टीमों को खरीदने के लिए कुल 22 बिजनेस घरानों ने दिलचस्पी दिखाई थी। बोली लगाने वालों में अडाणी ग्रुप, इंग्लिश फुटबॉल क्लब मैचेस्टर यूनाइटेड के मालिक ग्लेजर परिवार, टोरेंट फार्मा, अरबिंदो फार्मा, आरपी-संजीव गोयनका ग्रुप, हिंदुस्तान टाइम्स मीडिया ग्रुप, पूर्व मंत्री नवीन जिंदल की जिंदल स्टील, रॉनी स्क्रूवाला और तीन प्राइवेट इक्विटी से जुड़े लोग शामिल थे। मगर अंत में गोयनका ग्रुप और CVC पार्टनर ने बाज़ी मारने में सफल रहे।

आगे बढ़ रहा है भारतीय क्रिकेट
IPL की दो नई टीमों के जुड़ने पर BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली ने न्यूज़ एजेंसी ANI से कहा- हम बेहद खुश हैं कि भारतीय क्रिकेट आगे बढ़ रहा है। वही हमारे लिए महत्वपूर्ण है। हम भारतीय क्रिकेट को देखते हैं और यही हमारा काम है। भारतीय क्रिकेट जितना समृद्ध होगा, उतना ही अच्छा होगा।

2016-17 में खेल चुकी हैं पुणे की टीम
आरपी-संजीव गोयनका ग्रुप का 6 बिलियन अमेरिकी डॉलर का एसेट बेस है। ये ग्रुप एनर्जी, कार्बन ब्लैक मैन्युफैक्चरिंग, रिटेल, आईटी इनेबल्ड सर्विस, FMCG, मीडिया एंड एंटरटेनमेंट और एग्रीकल्चर के बिजनेस में शामिल है। 2016 में इस ग्रुप ने राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स को खरीदा था। रघु अय्यर को इसका CEO नियुक्त किया गया था। 2016 के IPL सत्र में टीम का प्रदर्शन खराब रहा था और टीम प्लेऑफ में जगह बनाने में नाकाम रही थी। हालांकि 2017 के सीजन में टीम ने फाइनल तक का सफर तय किया था। 2017 के IPL फाइनल में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स को मुंबई इंडियंस ने 1 रन से हराया था।

वहीं, CVC कैपिटल पार्टनर्स एक प्राइवेट इक्विटी और इन्वेस्टमेंट एडवाइजरी फर्म हैं। इसका यूरोपीय और एशियाई बाजारों में भारी निवेश है। CVC की काफी लंबे समय से स्पोर्ट्स में रुचि रही है। कुछ समय पहले इसने स्पैनिश फुटबॉल लीग लालीगा में हिस्सेदारी खरीदी थी। यह रग्बी, वॉलीबॉल, टेनिस, मोटो जीपी और फॉर्मूला वन में भी शामिल रहा है।

अगले सीजन से टीमों की संख्या 10 हो जाएगी
इन टीमों के शामिल होने के बाद अगले सीजन से IPL में टीमों की संख्या बढ़कर दस हो जाएगी। IPL में मैचों की संख्या भी 60 से बढ़कर 74 हो जाएगी। खिलाड़ियों के लिहाज से बात करें तो दो टीमें बढ़ने से कम से कम 45 से 50 नए खिलाड़ियों को IPL में खेलने का मौका मिलेगा। इनमें भी 30 से 35 युवा भारतीय खिलाड़ी होंगे।

Back to top button
E-Paper