वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में कैसा रहा है विराट कोहली का प्रदर्शन ? जानिए आंकड़े

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (WTC) अब अपने अंतिम पड़ाव पर है और इसका फाइनल मुकाबला 18 जून से भारत और न्यूजीलैंड के बीच सॉउथैम्पटन में खेला जाएगा।भारत ने WTC के अंतर्गत सर्वाधिक अंक हासिल करते हुए खिताबी मुकाबले में प्रवेश किया था। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने भी टीम को फाइनल में पहुंचाने में अहम योगदान दिया था।ऐसे में आइए उनके WTC के सफर पर एक नजर डालते हैं।

वेस्टइंडीज दौरे में औसत से नीचे रहे कोहली

कोहली ने 2019 में हुए वेस्टइंडीज दौरे पर WTC के अपने शुरुआती दो टेस्ट खेले और 34 के औसत से 136 रन बनाए।उनके लिए वेस्टइंडीज दौरा कुछ खास नहीं बीता और वह कोई शतक नहीं लगा सके थे। उस सीरीज में कोहली ने 9, 51, 76 और 0 के स्कोर किए।हालांकि, कोहली के खराब प्रदर्शन के बावजूद भारत ने वो टेस्ट सीरीज 2-0 से अपने नाम कर ली थी।दक्षिण अफ्रीका

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जबरदस्त फॉर्म में लौटे कोहली

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जबरदस्त फॉर्म में लौटे कोहली
कोहली

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की घरेलू टेस्ट सीरीज (2019) में कोहली ने जबरदस्त प्रदर्शन किया। उन्होंने दूसरे टेस्ट में शानदार दोहरा शतक भी लगाया।कोहली ने सीरीज के दूसरे पुणे टेस्ट में 254* रन बनाए। यह उनके टेस्ट करियर का सर्वोच्च स्कोर है।उन्होंने उस सीरीज में 158.50 की जबरदस्त औसत से 317 रन बनाए।कोहली ने उस सीरीज में 20, 31*, 254* और 12 के स्कोर किए थे।बांग्लादेश

बांग्लादेश के खिलाफ रचा इतिहास

भारत ने 2019 में बांग्लादेश के खिलाफ दो मैचों की घरेलू टेस्ट सीरीज खेली, जिसमें दूसरा मुकाबला पिंक बॉल से खेला गया।ईडन गार्डन के मैदान में विराट कोहली ने पिंक बॉल टेस्ट में शतक (136) लगाकर इतिहास रच दिया। वह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पिंक बॉल टेस्ट में शतक लगाने वाले पहले भारतीय बने थे। उन्होंने उस सीरीज में 68 की औसत से 136 रन बनाए थे।यह कोहली के अंतरराष्ट्रीय करियर का 70वां शतक था।न्यूजीलैंड

न्यूजीलैंड दौरे पर कोहली ने किया निराश

न्यूजीलैंड दौरे पर कोहली ने किया निराश
विराट कोहली

कोहली ने न्यूजीलैंड के 2019/20 दौरे पर निराशाजनक प्रदर्शन किया था।भारतीय कप्तान कीवी गेंदबाजों के सामने लाचार नजर आए थे और उन्होंने दो मैचों की टेस्ट सीरीज में 2, 19, 3 और 14 के स्कोर किए थे।यह दो या दो से अधिक टेस्ट की केवल दूसरी ऐसी सीरीज थी जिसमें कोहली ने 20 रनों का आंकड़ा पार नहीं किया था।उस सीरीज में कोहली का औसत 9.50 का रहा था।प्रदर्शन

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाफ ऐसा रहा कोहली का प्रदर्शन

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर कोहली ने सिर्फ टेस्ट खेला, जिसमें उन्होंने 4 और 74 के स्कोर किए। उसके बाद वह पितृत्व अवकाश के चलते सीरीज के बीच से ही स्वदेश लौट गए थे।वहीं अपने पिछले टेस्ट सीरीज में कोहली ने इंग्लैंड के खिलाफ कुछ खास प्रदर्शन नहीं किया। उन्होंने चार टेस्ट में 28.67 की औसत से 172 रन बनाए। उस सीरीज में कोहली का सर्वोच्च स्कोर 72 रन रहा था।WTC

WTC में फिलहाल तीसरे सर्वाधिक रन बनाने वाले भारतीय हैं कोहली

कप्तान विराट कोहली विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में फिलहाल तीसरे सर्वाधिक रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज हैं। उन्होंने 14 मैचों में लगभग 44 की औसत से 877 रन बनाए हैं। इस बीच उन्होंने दो शतक और पांच अर्धशतक भी लगाए हैं।कोहली से आगे इस सूची में भारतीय उपकप्तान अजिंक्य रहाणे और रोहित शर्मा हैं।रहाणे ने WTC में 44 की औसत से 1,095 रन बनाए हैं। वहीं रोहित 64.37 की औसत के साथ 1,030 रन बना चुके हैं।

Back to top button
E-Paper