वाराणसी में महिला डॉक्टर की हत्या: आरोपी देवर खुद पहुंचा थाने, बोला- भाभी बोलती थी नपुंसक, इसलिए मार डाला

 वाराणसी ;  वाराणसी में पूर्व कांग्रेस विधायक के बेटे ने नपुंसक कहने पर भाभी को हथौड़े और कैंची से बर्बर तरीके से क्लिनिक में घुस कर हत्या कर दी। इतना ही नही उसने हत्या करने के बाद खुद को स्थानीय थाने में जाकर सरेंडर भी कर दिया।

दिन दहाड़े क्लीनिक में घुस कर की हत्या
सिगरा थाने के अंतर्गत चंद्रिका नगर में वाराणसी शहर के पूर्व कांग्रेस विधायक डॉक्टर रजनीकांत दत्ता की बहू डॉ. सपना दत्ता एक डायग्नोस्टिक केंद्र चलाती थीं। बुधवार सुबह भी वो रोज की तरह अपने सेंटर पर मौजूद थीं। सेंटर पर आम दिनों की तरह ही मरीजों की जांच चल रही थी, तभी उनका देवर अनिल दत्ता उनके केबिन में आया, चूंकि अनिल दत्ता मृतका का देवर था तो गार्ड ने भी उसे नहीं रोका। अचानक ही केबिन में पहुंच कर उसने डॉक्टर सपना के सिर पर ताबड़तोड़ हथौड़े से वार कर दिया। हथौड़े के वार से डॉक्टर सपना वहीं ढेर हो गईं। अचानक हुए इस हमले से क्लीनिक में अफरा-तफरी मच गई। इसी बीच किसी ने इस घटना की जानकारी 112 पर दी। घटना को अंजाम देने के बाद हमलावर अनिल दत्ता सिगरा थाने पहुंचकर उसने जुर्म कबूल कर लिया।

दूसरे आरोपी की तलाश जारी
इस घटना के बारे में पुलिस कमिश्नर ए सतीश गणेश ने बताया कि आरोपी हमलावर ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। उसने पुलिस को दिए अपने बयान में बताया है कि उसकी भाभी मृतका सपना दत्ता ने उसे और उसके भाई को नपुंसक कहा था। इसी बात से वो आहत था और उसने ही हथौड़े से और वहां टेबल पर रखी कैंची से हत्या की है। पुलिस कमिश्नर ने बताया की इस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर इस हत्याकांड में नौकर रोशन चौधरी की भी संलिप्तता दिखाई पड़ रही है। घटना के बाद से वो फरार है। दूसरे आरोपी रोशन चौधरी की जल्द ही गिरफ्तारी की जाएगी।

कौन हैं डॉक्टर सपना दत्ता
डॉक्टर सपना दत्ता वाराणसी शहर दक्षिणी के पूर्व कांग्रेस विधायक डॉक्टर रजनीकांत दत्ता की बहू थीं। डॉक्टर रजनीकांत को 1989 के चुनावों में बीजेपी के श्यामदेव राय चौधरी ने हराया था।

Back to top button
E-Paper