सालभर से फ्रीज में रखा नूडल सूप खाने से चीन में एक ही परिवार के 9 लोगों की मौत

चीन में घर में बने नूडल सूप को पीने से एक ही परिवार के नौ लोगों की मौत हो गई है। यह मामला चीन के नॉर्थ-ईस्ट रीजन के हिलोजियांग प्रांत का है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, परिवार के सदस्यों ने जो नूडल सूप पीया था, वह एक साल से फ्रीजर में रखा था। नूडल सूप को कॉर्न फ्लोर से तैयार किया गया था, जिसे 5 अक्टूबर को सुबह नाश्ते में पीया गया था।

इसे पीते ही कुछ ही घंटों के अंदर 9 लोगों की हालत बिगड़ गई। आनन-फानन में उन्हें हॉस्पिटल ले जाया गया। चीनी मीडिया के मुताबिक, 10 अक्टूबर तक 7 लोगों की मौत हो चुकी थी। आठवीं मौत दो दिन बाद हुई। घर के 9वें सदस्य ने 19 अक्टूबर को दम तोड़ा। आखिरी मौत एक महिला की हुई थी, जिसका नाम ली था।

12 लोगों के परिवार में से 3 लोगों की जान ऐसे बची
फ्रीजर में सालभर तक रखे रहने के कारण नूडल सूप खराब हो चुका था। जिस दिन ये हादसा हुआ, उस दिन के नाश्ते के लिए परिवार के 12 सदस्य मौजूद थे। उनमें से 3 सदस्यों ने सूप का टेस्ट पसंद न आने पर पीने से इनकार कर दिया था, इसलिए उनकी जान बच गई।

चीन में जारी हुई एडवाइजरी
चीनी हेल्थ कमीशन ने सोमवार को वार्निंग जारी करते हुए खाने में फर्मेंटेड फ्लोर (कॉर्न फ्लोर) न लेने की सलाह दी। चीनी अधिकारियों का कहना है इस पूरे मामले की जांच की गई है। जांच में सामने आया है कि घर के सदस्यों जो नूडल सूप पीया था, उसमें बॉन्गक्रेकिक एसिड की मात्रा अधिक थी, जो फूड पॉइजनिंग की वजह बना।

क्या है बॉन्गक्रेकिक एसिड जिसने ली नौ जिंदगियां
बॉन्गक्रेकिक एसिड ने खाने को जहरीला बनाने का काम किया है। यह फर्मेंटेड मैदा और चावल से जुड़े फूड में पाई जाती है। चाइना एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर फेन झिहॉन्ग का कहना है, यह बेहद जहरीली होती है। बॉन्गक्रेकिक एसिड जिस भी खाने में मौजूद है, उसे गर्म करने पर भी इसका असर खत्म नहीं होता।

40 से 100% तक है मौत की दर प्रोफेसर फेन कहते हैं, बॉन्गक्रेकिक एसिड वाला खाना खाने से इंसान और जानवर दोनों में फूड पॉइजनिंग भी हो सकती है और मौत भी। फूड पॉइजनिंग होने पर मौत की दर 40 से 100% तक होती है।

Back to top button
E-Paper