देश में 10 करोड़ लोगों को लगी ड्रग्स लेने की लत, कोरोना काल से बढ़ी रफ्तार

कोरोना काल में देश में ड्रग्स का कारोबार और सेवन काफी तेजी से बढ़ा है। 2022 में तो इसमें और तेजी आई है। देश में करीब 10 करोड़ लोग हेरोइन, कोकीन, अफीम, गांजा व भांग जैसे प्रतिबंधित ड्रग्स लेते हैं। नेशनल नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के डिप्टी डायरेक्टर जनरल संजय कुमार सिंह ने गुरुवार को कहा है कि 2007 में देश में करीब 2 करोड़ लोग प्रतिबंधित ड्रग्स लेते थे, जिनकी संख्या 15 साल में 5 गुना बढ़कर 10 करोड़ से अधिक हो गई है। ड्रग्स लेने वालों में युवाओं की तादाद अधिक है और यह संख्या लगातार बढ़ रही है। सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, वर्ष 2018 में हेरोइन-कोकीन, अफीम लेने वाले लोगों की संख्या 2.30 करोड़ थी।

वहीं गांजा पीने वालों की संख्या 3.10 करोड़ है। 2004 से अब तक अफीम लेने वालों की संख्या 600% से अधिक बढ़ी है। एनसीबी ने वर्ष में 2020 में हेरोइन और कोकीन जैसे ड्रग्स की 412 खेप पकड़ी थी, वहीं 2022 के शुरुआती 5 महीने में ही यह आंकड़ा 245 तक पहुंच गया है। जबकि NCB ने साल 2021 में ड्रग्स से जुड़े 684 केस दर्ज किए। एनसीबी के मुताबिक, अप्रेल 2021 से अब तक 26,000 करोड़ रुपए की 3800 किलोग्राम हेरोइन जब्त की गई है।

ड्रग पेडलर्स शिपमेंट के लिए ड्रोन का उपयोग

एनसीबी के डीडीजी संजय कुमार सिंह ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी शुरू होने के बाद नशीली दवाओं के तस्करों और ड्रग पेडलर्स ने एनसीबी और अन्य एजेंसियों को चकमा देने के लिए नए-नए तरीके इजाद किए हैं। ड्रग पेडलर्स ड्रग्स की शिपमेंट के लिए ड्रोन का इस्तेमाल कर रहे हैं। साथ ही कूरियर के जरिए बेनाम पार्सल भेजते हैं। यह उनके लिए काफी आसान है। खरीदार डार्कनेट साइट से ऑनलाइन ड्रग्स का ऑर्डर देते हैं और उन्हें बेनाम पार्सल के जरिए इसकी सप्लाई की जाती है। एजेंसियों के लिए इसे ट्रैक करना आसान नहीं है।

नए तरीके तलाशने में जुटे तस्कर

एनसीबी के अनुसार, नशीली दवाओं के तस्कर ड्रग्स पहुंचाने के लिए नए-नए तरीके तलाश रहे हैं। ये कूरियर का इस्तेमाल कर बेनाम पार्सल भेजते हैं। डिप्टी डीजी, एनसीबी संजय कुमार सिंह के अनुसार, अप्रेल 2021 से अब तक 26,000 करोड़ की हेरोइन जब्त की गई है। इनका वर्ष वार ब्योरा इस प्रकार है

एनसीबी के कब्जे में जब्त हुई इतनी ड्रग्स

साल 2020 2021 2022*

कुल मामले 412 684 245

भारतीय गिरफ्तार 775 938 301

विदेशी गिरफ्तार 62 93 38

300 पार्सल जब्त किए

एनसीबी ने 2021 में ऐसे 300 पार्सल जब्त किए जबकि 2019 में इसकी संख्या 60 थी। एनसीबी ने इस पर लगाम लगाने के लिए कूरियर कंपनियों को निर्देश दिया है कि वे भेजने और प्राप्त करने वाले का रेकॉर्ड रखें।

Back to top button