लू की चपेट में आए प्रदेश के 12 जिले, गर्मी से कुछ राहत मिलने के आसार

भोपाल । मध्य प्रदेश में मानसून पूर्व की गतिविधियां तेज होने लगी हैं। वर्तमान में पूर्वी उत्तर प्रदेश से बांग्लादेश तक एक द्रोणिका लाइन (ट्रफ) बनी हुई है। इसकी वजह से कुछ नमी मिलने का सिलसिला जारी है। प्रदेश में अधिकांश स्थानों पर तापमान बढ़ा हुआ रहने के कारण धूल भरी आंधी चलने और गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी की स्थिति बनने लगी है।

वहीं नौतपा के तीसरे दिन बुधवार को प्रदेश के 12 जिलों में लू चली। सबसे अधिक 46 डिग्री सेल्सियस तापमान खजुराहो, रीवा, सीधी, ग्वालियर, नौगांव में रिकार्ड किया गया। भोपाल में तापमान 43.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, जो कि सामान्य से 3 डिग्री अधिक रहा।

वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि मानसून पूर्व की गतिविधियां तेज होने के कारण अब धीरे-धीरे गर्मी से राहत मिलने की संभावना है। मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक बुधवार को छतरपुर, ग्वालियर, रीवा, मुरैना, छिंदवाड़ा, सीधी, खरगोन, सतना, दमोह, टीकमगढ़, गुना, राजगढ़ जिले लू की चपेट में रहे। मालवा-निमाड़। नौतपा के तीसरे दिन बुधवार को गर्म हवा ने खासा परेशान किया। बुरहानपुर में इस सीजन का सर्वाधिक 47 डिग्री तापमान दर्ज किया गया। यहां दो वर्ष पूर्व तापमान 48 डिग्री तक रहा था।

Back to top button
E-Paper