दिव्या़गों के लिए गुरुग्राम में 12 वां राष्ट्रीय नेत्र बैंक सम्मेलन

सुधीर सिंगला विधायक और बोधराज सीकरी उपाध्यक्ष, हरियाणा प्रांत सीएसआर ट्रस्ट ने सामूहिक रूप से किया 12 वें राष्ट्रीय नेत्र बैंक सम्मेलन का शुभारंभ

भास्कर समाचार सेवा
गुरुग्राम। गत शनिवार रविवार को आई बैंक एसोसिएशन ऑफ इंडिया, हैदराबाद और निरामया आई बैंक (आहुजा नेत्र एवं दन्त संस्थान, गुरुग्राम) द्वारा कॉर्निया एवं आई बैंकिंग पर 12वें राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन एमिटी यूनिवर्सिटी, मानेसर, गुरुग्राम में किया गया। इस सम्मेलन का शुभारंभ सुधीर सिंगला विधायक गुरुग्राम और बोधराज सीकरी (उपाध्यक्ष, हरियाणा प्रांत सीएसआर ट्रस्ट) द्वारा सामूहिक रूप से किया गया।आपको बता दें कि ईबीएआई एक तीन दशक पुराना संगठन है जोकि कोर्नियल ब्लाइंडनेस को खत्म करने के लिए काम कर रहा है और निरामया आई बैंक ने दक्षिण हरियाणा में 17 वर्षों से इस फ्लैगशिप को कायम रखा है।
“क्या काम करता है संगठन”

प्रोद्योगिकी, प्रथाओं एवं प्रक्रियाओं के क्षेत्र में जो प्रगति हुई है, उनकी जानकारी उन लोगों तक पहुँचाने की जरूरत है जो आई केयर एंड आई बैंकिंग के कार्यों में शामिल है। ईबीएआई पिछले एक दशक से आई बैंकिंग एवं कार्निया पर राष्ट्रीय वार्षिक सम्मेलन का आयोजन कर रहा है।
इस कांफ्रेंस में देशभर के नेत्र रोग विशेषज्ञ, ऑप्टोमेट्रिस्ट, आई बैंक मैनेजर, आई बैंक काउंसेलर, आई बैंक टैक्नीशियन, प्रशासक एवं नीति निर्माता सभी सम्मिलित होते हैं।

हमारे देश में लगभग 2.1 मिलियन लोग कॉर्नियल ब्लाइंड हैं, जिनमें से 1 मिलियन बच्चे हैं, जबकि प्रति वर्ष कॉर्निया प्राप्त करने वालों की संख्या केवल 3500 ही है। यदि कुछ नहीं किया गया तो यह अंतर बढ़ता चला जायेगा और लाखों देशवासी क्यूरेबल ब्लाइंडनेस का शिकार होते रहेंगे।
गुरु ग्राम के गणमान्य लोग रहे उपस्थित

इस कॉन्फ्रेंस में मुख्य अतिथि सुधीर सिंगला(गुरुग्राम विधायक),
गेस्ट ऑफ ओनर बोधराज सीकरी उपाध्यक्ष, हरियाणा प्रांत सीएसआर ट्रस्ट व सीएमओ वीरेंद्र यादव, ईबीएआई के प्रेसिडेंट डॉ जे के एस परिहार, सेक्रेटरी डॉ नम्रता शर्मा भी शामिल रहे।
वीरेंद्र पंकज एवं नरेंद्र आहूजा ने निरामया चैरिटेबल ट्रस्ट एवं निरामय आई बैंक के बारे में अपने विचार रखे।
श्री सिंगला ने नेत्र दान पर बल दिया और जागरूकता अभियान की पुरज़ोर प्रार्थना की और कॉर्पोरेट से सहयोग की भी अपील की। वहाँ दूसरी और बोध राज सीकरी ने गीता जयंती के उपलक्ष्य में गीता के श्लोकों का उच्चारण कर माहौल गीतामय बना दिया। उन्होंने कहा कि धृतराष्ट्र अंधा था और दूसरी और संजय के पास दिव्य दृष्टि थी। दोनों आज की कांफ्रेंस से संबंध रखते हैं। उन्होंने सरकार द्वारा किए हेल्थ केयर उद्योग पर प्रयासों का डेटा देकर बता दिया को सरकार इस विषय पर गंभीर है l इस कॉन्फ्रेंस को 200 से भी ज्यादा डॉक्टर्स, 250-300 के लगभग डेलीगेट्स एवं 200 से भी ज्यादा फैसिलिटीज ने अटेंड किया। मनोज आहूजा, चित्रेश आहूजा इत्यादि कई लोगों ने इस कॉन्फ्रेंस में अपना पूरा सहयोग दिया।
नॉर्थ जोन के जोनल चेयरमैन डॉ हितेंद्र आहूजा ने सभी लोगों को धन

Back to top button