गोरखपुर BRD कॉलेज मामला : CM योगी ने कहा-ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई थी बच्चो की मौत, देखे VIDEO

लखनऊ: सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि 2017 में गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में हुई मौतों के बारे में गलत खबर को फैलाया गया है. उन्होंने कहा कि मौतों के पीछे का कारण ऑक्सीजन की कमी को बताया गया था, जो कि गलत है,

क्योंकि अगर ऐसा होता तो सबसे पहले वो बच्चे मरते जो वेंटीलेटर पर थे. जबकि उन बच्चों की हालत में उसके बाद सुधार हुआ था और आज भी वो बच्चे स्वस्थ हैं.

एक रात में ही हुई थी कई मौतें
गौरतलब है कि पिछले साल अगस्त महीने में गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में एनएनयू वार्ड में भर्ती 13 बच्चों और इंसेफेलाइटिस वार्ड में भर्ती 17 बच्चों की मौत हो गई थी. उस समय मौत के कारण के रूप में बताया गया था कि 69 लाख रुपये का भुगतान न होने की वजह से ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली फर्म ने ऑक्सीजन की सप्लाई ठप कर दी थी. हालांकि अस्पताल प्रशासन ने ऑक्सीजन की कमी से इंकार किया था. वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने घटना के पीछे गंदगी को जिम्मेदार ठहराया था.

योगी शनिवार को पोषण अभियान और सुपोषण स्वास्थ्य मेला के शुभारम्भ के अवसर पर साइंटिफिक कन्वेंशन सेंटर में बोल रहे थे. उन्होंने कहा कि, ‘जब मैं पहली बार सांसद बना था तो गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज’ की हालत बहुत ख़राब थी. मैंने लगातार संसद में इस बारे में आवाज उठाई और इसके अच्छे परिणाम मिले. पिछले साल बीआरडी मेडिकल कॉलेज में 200 से ज्यादा मौते हुईं थीं, इस साल 10 से भी कम हुई हैं.’

चिकित्सकों को देनी पड़ी थी थेरेपी: योगी
पिछले साल हुए हादसे के लिए उन्होंने बीआरडी मेडिकल कॉलेज की आतंरिक राजनीति को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा कि, ‘मेडिकल कॉलेज की आतंरिक राजनीति के कारण नकारात्मक समाचार मीडिया में आए. उसके बाद हमें चिकित्सकों को थेरेपी देनी पड़ी, जिससे वो काम पर लौट सकें.’

Back to top button
E-Paper