27 लाख पौधों से लहलहाएगी सीतापुर की सरजमीं

  • वन विभाग ने जुलाई माह में पौधरोपण की तैयारी की
  • स्कूल, थाना, ब्लाक, तहसील तथा खेतों की मेड़ों पर होगा पौधरोपण

सीतापुर। जिले की सरजमीं की आवोहवा अब आपको और भी तरोताजा करेगी। कार्बन डाई आक्साइड का प्रभाव कम तो होगा ही साथ ही आक्सीजन की भी बढोेत्तरी होगी। यही नहीं जिलेवासियों को छाया के साथ साथ फल भी खूब खाने को मिलेगे। जी हां यह सब संभव होगा अगले माह से। इस बार जिले की धरती पर 27 लाख का पौधरोपण होने जा रहा है।

वन विभाग ने पौधरोपण को लेकर सभी तैयारियां पूरी की ली है। बस इंतजार है बारिश होने का। बताते चलें कि हर वर्ष जिले में बरसात में पौधरोपण होता है। इस बार पौधरोपण पार सबसे अधिक जोर किसानांें पर दिया जा रहा है।

किसानों की खेती के मेड़ों पर सर्वाधिक कराया जाएगा

पौधरोपण किसानों की खेती के मेड़ों पर सर्वाधिक कराया जाएगा। जितनी भूमि वन विभाग के पास है उस पर तो पौधरोपण होगा ही साथ ही सरकारी स्कूलों, थानों, ब्लाकों, तहसीलों पर भी पौधरांेपण कराया जाएगा। किसानों को इसके लिए सबासे आगे किया जाएगा ताकि जमकर पौधरोपण हो सके। इसको लेकर वन विभाग ने सारी तैयारियां पूरी कर ली है।

डीएफओ अनुरूद्ध पांडेय बताते हैं कि गडढे खोद कर तैयार कर लिए गए है। वन विभाग द्वारा सात लाख बत्तीस हजार पौधे लगाए जाएंगे। इसके अलावा ग्राम विकास, उद्यान विभाग, कृषि विभाग तथा अन्य विभाग पौधरोपण में शामिल होंगे।

वन विभाग सवा सात लाख से अधिक पौधे लगाएगा

श्री पांडेय ने बताया कि जहां वन विभाग सवा सात लाख से अधिक पौधे लगाएगा वहीं ग्राम विकास विभाग सात लाख, उद्यान विभाग पांच लाख, कृषि विभाग पांच लाख तथा अन्य विभागों में जैसे शिक्षा विभाग, स्वास्थ्य विभाग, ब्लाक तहसील आदि तीन लाख पौधे लगाएगा। इस प्रकार कुल 27 लाख 32 हजार पौध रोपण होगा।

सर्वाधिक पौधरोपाण किसानों के खेतों पर किया जाएगा। इसके तहत इस बार सरकार ने कई योजनाएं लांच भी की है जिसके तहत पौधों की देखरेख के लिए उन्हें अनुदान भी मिलेगा। कुछ योजनाओं में वन विभाग पौधों को निःशुल्क देगा और कुछ में शुल्क भी लेगा।

बारिश का इंतजार, वन विभाग बेकरार
वन विभाग को पौधरोपण कराने के लिए बेकरार है। बस उसे इंतजार है बारिश होने का। क्योंकि पौधरोपण बारिश के ही महीने में होता है। डीएमओ श्री पांडेय बताते हैं कि पौधरोपण को लेकर वन विभाग के सभी कर्मचारी तेजी से जुटे हुए है।

Image result for पौधरोपण

गडढों की खुदाई का कार्य लगभग पूरा हो चुका है। कार्ययोजना पर तो पहले से ही पूरा काम हो चुका है। बस इंतजार पानी गिरने का है। मौसम विभाग की माने तो जून माह के अंत तक बारिश शुरू हो जाएगी। जैसे ही बारिश शुरू होगी पौधरोपण कराया जाने लगेगा।

15 प्रजातियों के लगाए जाएंगे पौधे
जिले भर में लगभग 15 प्रजातियों के पौधे लगाए जाएंगे। जिसमें छायादार, फलदार, खुशबूदार, औषधीय, शोभाकार तथा कामर्शियल प्रजाति के पौधे शामिल होगे। डीएफओ श्री पांडेय बताते हैं कि नीम, आम, पीपल, पाकड़, शीशम, बरगद, सागौन, जामुन, कटहल, खैर, महुआ, सहजन, ताड़, गुलमोहर, इमली समेत विभिन्न प्रजातियों के पौधे लगाए जाएंगे।

Back to top button
E-Paper