नेपालगंज से 405 लोगों का स्वाब परीक्षण हेतु भेजा गया काठमांडू

नबी अहमद
रूपईडीहा/बहराइचl पड़ोसी नेपाली शहर नेपालगंज से शनिवार को नेपाली सेना के प्लेन द्वारा 405 लोगों थ्रोट स्वाब परीक्षण के लिए काठमांडू भेजा गया। नेपालगंज के तांगा स्टेशन व आसपास के क्षेत्र से संकलित किया गया 162 लोगों का थ्रोट स्वाब व बर्दिया जिले के 243 लोगों का स्वाब नेपाली सेना के प्लेन द्वारा राष्ट्रीय जनस्वास्थ्य प्रयोगशाला काठमांडू भेजा गया। इस संबंध मे जानकारी देते हुए नेपालगंज स्थित जिला स्वास्थ्य कार्यालय बांके के फोकल पर्सन नरेश श्रेष्ठ ने जानकारी देते हुए बताया कि हमारे नेपालगंज स्थित भेरी अंचल अस्पताल मे एक दिन मे 100 सैम्पल का मात्र परीक्षण संभव है। इससे अधिक सैमपल आने पर हम इसे काठमांडू भेजते है। काठमांडू भेजे गये सैम्पल की रिपोर्ट 24 घंटे मे आ जायेगी। इसीलिए 405 सैम्पल काठमांडू भेजे गये है।

दो युवतियों सहित दो नेपाली युवकों को किया गया क्वारेटाइन
रूपईडीहा। शनिवार की शाम 04 नेपाली युवा नवयुग इण्टर कालेज मोतीपुर मे क्वारेंटाइन किए गए। इस संबंध मे सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र प्रभारी चरदा डा. अर्चित श्रीवास्तव ने बताया कि लखनऊ से ब्रेस्ट सर्जरी कराकर रूपईडीहा पहुंचे थे। इनकी रूपईडीहा थाने मे स्वास्थ्य पर्यवेक्षक हरिराम आर्या व चीफ फार्मेसिस्ट वीरेन्द्र कुमार ने थर्मल स्क्रीनिंग की। सीता की ब्रेस्ट सर्जरी हुई थी। यह 55 दिनों से अपनी साथ रीता, रवि व प्रकाश के साथ लखनऊ मे रहकर इलाज करा रही थी। इन चारो को नेपाल नही जाने दिया गया। इन्हे नवयुग इण्टर कालेज मोतीपुर मे क्वारेंटाइन किया गया। इसी प्रकार रूपईडीहा थाना क्षेत्र के गमरखा निवासी जाबिर अली जो मुम्बई के कुर्ला से लौटा था। इसे होम क्वारेंटाइन किया गया।

Back to top button
E-Paper