VIDEO : कुमार स्वामी के शपथग्रहण समारोह में हुई पैसो की बारिश 

नई दिल्ली: कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की सरकार बनने पर जनता दल (सेक्युलर) नेता एचडी कुमारस्वामी के सीएम पद के शपथ ग्रहण समारोह में विपक्ष एकसाथ आया था। कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण समारोह में ममता बनर्जी से लेकर मायावती, अखिलेश यादव और आम आदमी पार्टी के सीएम अरविंद केजरीवाल तक पहुंचे थे। शपथग्रहण समारोह में शिरकत करने वाले नेताओं के खर्च के बारे में सुनकर आप चौंक जायेंगे।

बेंगलुरु मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक, सात मिनट के शपथ ग्रहण समारोह पर कर्नाटक सरकार ने 42 लाख रुपए खर्च कर डाले। शपथ ग्रहण में सबसे ज्‍यादा खर्च आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू पर किया गया। इस फेहरिस्‍त में दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल का भी नाम है।

कुमारस्वामी के शपथग्रहण में 42 बड़े नेताओं को आमंत्रित किया गया था। इनमें सबसे ज्‍यादा खर्च 8,72,485 रुपये आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू पर किया गया। इसी प्रकार से कमल हासन भी ताज वेस्‍ट एंड में ही रुके। उन पर करीब 1,02,040 का खर्च आया।

अखिलेश यादव पर 1,02,400, मायावती पर 1,41,443, केरल के सीएम पिनाराई विजयन पर 1,02,400, शरद पवार पर 64000, बाबूलाल मरांडी पर 45,952 खर्च किया गया।

बेंगलुरु मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक, 13 मई 2013 को सिद्धारमैया और 17 मई 2018 को बीएस येदियुरप्पा के शपथग्रहण के दौरान सरकार ने मेहमानों के रुकने का खर्चा नहीं उठाया था

रिपोर्ट्स से पता चला है कि कर्नाटक सरकार ने 42 लाख रुपये सात मिनट के शपथग्रहण समारोह पर खर्च किए थे। अरविंद केजरीवाल ने ताज वेस्ट एंड में 23 मई को सुबह 9:49 बजे चेक इन किया और 24 मई को सुबह 5:34 बजे चेकआउट किया। जिस दिन वह पहुंचे उस दिन रात को इन-रूम डाइनिंग, खाने-पीने के 71,025 रुपये और बेवरेज के 5000 रुपये का बिल बनाया गया।

मेहमानों के ऊपर इस तरह खर्च किए जाने को लेकर राज्य सरकार की पूर्व लोकायुक्त जस्टिस संतोष हेगड़े ने तीखी आलोचना की है। उन्होंने कहा कि सरकार को ऐसी बर्बादी की इजाजत नहीं देनी चाहिए थी।

Back to top button
E-Paper