6 वर्षीय बालक ने अपने गोलक तोड़कर एसडीएम को दिए 5100 रुपए, कहा- अंकल कोरोना से फाइट में ये काम आएंगे

शकील अन्सारी

नानपारा/बहराइच l कोविड-19 वैश्विक महामारी के चलते जहां एक ओर बड़े-बड़े उद्योगपति अधिकारी कर्मचारी नेता मुख्यमंत्री राहत कोष में सहायता राशि भेज रहे हैं मीडिया में चल रही है ऐसी खबरों को देखकर यूकेजी में पढ़ने वाले एक 6 वर्षीय बालक ओवैस अदनान ने अपना पॉकेट मनी का गोलक तोड़ डाला और उसमें काफी दिनों से इकट्ठा किए गए 51 सो रुपए निकाल कर मुख्यमंत्री राहत कोष अकाउंट के नाम ड्राफ्ट बनवा कर  उप जिला अधिकारी नानपारा राम आसरे वर्मा को सौंपा नन्हे बालक के प्रयास कि लोगों  ने प्रशंसा की है l

पत्रकारों ने जब ओवेश अदनान से पूछा कि पैसा कहां से लाए हो क्यों दे रहे हो तो  नन्हे बालक ने बताया कि उसने काफी दिनों से ईद से संबंधित कपड़ा आदि लेने  के लिए गोलक में पैसे इकट्ठा किए थे देश में बीमारी फैल रही है लोग परेशान हैं इसलिए वो अपना पैसा गरीबों की मदद के लिए दे रहा है साथ ही यह भी कहा कि वह अब  ईद नहीं मनाएगा और दुआ करेगा कि देश से बीमारी समाप्त हो इसके बाद ही त्यौहार मनाएगा अदनान ने बताया कि उसके पापा डॉ शकील अंसारी महामारी को देखते हुए गरीब परेशान लोगों की मदद घर-घर जाकर लोगों से  मिल कर रहे हैं इसी से प्रेरणा मिली उसने भी गरीबों की मदद की ठान लिया l

Back to top button
E-Paper