कुशीनगर में 15 मतदान केंद्रों पर पड़े 98.31 प्रतिशत वोट

भास्कर ब्यूरो
पडरौना, कुशीनगर। देवरिया-कुशीनगर स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन को लेकर शनिवार को जिले के 15 मतदान केंद्रों पर शांतिपूर्ण माहौल में 98.31 प्रतिशत वोट पड़े। इस चुनाव में सांसद, विधायक, जिला पंचायत अध्यक्ष, ग्राम प्रधान, बीडीसी व सभासदों ने अपने_अपने माताधिकार का प्रयोग किया। एमएलसी चुनाव के लिए 6 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला 2727 वोटरों द्वारा किया गया।

बता दें कि जहां भाजपा ने देवरिया के डा. रतनपाल सिंह व सपा से गोरखपुर के डा. कफील को अपना प्रत्याशी बना रखा था। जिसमे इन दोनों के बीच ही सीधा मुकाबला देखने को मिला। सुबह आठ बजे शुरू हुआ मतदान शाम चार बजे समाप्त हो गया

देवरिया_कुशीनगर स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन

चुनाव समाप्ति के बाद 6 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला अब 12 अप्रैल को होगा। मतदान के दौरान डीएम एस राजलिंगम, एसपी सचिंद्र पटेल, पुलिस उप महानिरीक्षक गोरखपुर जे. रविन्द्र गौंड़ व अपर पुलिस अधीक्षक रितेश कुमार सिंह ने प्रत्येक बूथों पर जाकर सुरक्षा का हाल जाना। एमएलसी चुनाव जिले में शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न हो सके इसके लिए प्रशासन ने चाक चौबंद व्यवस्था कर रखी थी।

शांतिपूर्ण माहौल में सांसद, विधायक ने अपने मताधिकार किया प्रयोग

सभी 14 ब्लाक मुख्यालयों एवं जिला पंचायत परिसर में प्रशासन ने सुरक्षा के बावत पुख्ता इंतजाम कर रखा था। जहां 14 ब्लाक मुख्यालयों पर विधायक, जिला पंचायत अध्यक्ष, ग्राम प्रधान व बीडीसी ने अपने मत का प्रयोग किया तो जिला पंचायत रविन्द्रनगर धूस पर नगरपालिका पडरौना के 26 सभासदों ने अपना वोट डाला।

शाम चार बजे वोट पोलिंग के बाद खड्डा में 201 में 199, नेबुआ नौरंगिया- 193 मे 188, रामकोला में 197 में 193, कप्तानगंज में 200 में 197, मोतीचक में 173 में 170, सुकरौली में 151 में 148, हाटा में 145 में 140, कसया में 89 में 88, विशुनपुरा में 212 में 209, पडरौना में 282 में 273, कुशीनगर में 26 में 26, दुदही में 211 में 211।

डीएम, एसपी व पुलिस उप महानिरीक्षक ने बूथों पर पहुंच जाना सुरक्षा का हाल

सेवरही में 236 में 231, तमकुही में 226 में 225 व फ़ाज़िलनगर में 185 में 183 वोट पड़े। इस तरह जिले में 98.31 प्रतिशत वोट पड़े। चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न होने पर डीएम एस राजलिंगम ने सभी कर्मचारियों को बधाईयां दी और कहा कि स्वतंत्र, निष्पक्ष, शांतिपूर्ण एवं पारदर्शिता के साथ चुनाव कराने के लिए चाक_चौबंद व्यवस्था कर रखी थी। चुनाव समाप्ति के मतपेटिकाओं को देवरिया जिले में बने स्ट्रांग रूम में जमा करा दिया गया है। सांसद व विधायक ने अपने निवास क्षेत्र वाले ब्लाक मुख्यालय पर वोट का प्रयोग किया।

Back to top button