केजरीवाल सरकार के एक विज्ञापन में भारी चूक : सिक्किम को बताया पड़ोसी देश, हंगामा, अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई

नई दिल्ली : कोई इस तरह की गलती भला कैसे कर सकता है? आप जानकर हैरान रह जाएंगे कि दिल्ली सरकार के एक विज्ञापन में सिक्किम को पड़ोसी देशों, भूटान और नेपाल की श्रेणी में रख दिया गया। अखबार में विज्ञापन प्रकाशित होते ही सिक्किम सरकार ने बेहद कड़ी आपत्ति जताते हुए इसे तुरंत वापस लेने की मांग की। दिल्ली सरकार ने भी मामले की गंभीरता को समझते हुए तुरंत ऐक्शन लिया और विज्ञापन वापस लेते हुए संबंधित अधिकारी को निलंबित कर दिया।

ऐक्शन में आए सीएम केजरीवाल
दिल्ली के मुख्यंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी और कहा, ‘सिक्किम भारत का अभिन्न अंग है। इस तरह की गलतियों को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। विज्ञापन वापस लिया जा चुका है और संबंधित ऑफिसर के खिलाफ कार्रवाई की गई है।’

ऐसी गलती पर जीरो टॉलरेंस: LG
सीएम ने ये बातें उप-राज्यपाल (LG) अनिल बैजल के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए कहीं। बैजल ने अपने ट्वीट में कहा, ‘विज्ञापन के जरिए सिक्किम को पड़ोसी देशों की श्रेणी में रखकर भारत की क्षेत्रीय अखंडता का अपमान करने के कारण सिविल डिफेंस डायरेक्टरेट हेडक्वॉर्टर के एक वरिष्ठ अधिकारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।’ उन्होंने आगे लिखा, ‘इस तरह के गंभीर दुराचार के प्रति जीरो टॉलरेंस! विज्ञापन को वापस लेने का भी निर्देश दे दिया गया है।’

सिविल डिफेंस कॉर्प के लिए जारी हुआ था विज्ञापन
दरअसल, यह बवाल तब शुरू हुआ जब दिल्ली सरकार की तरफ से सिविल डिफेंस कॉर्प में वॉल्युंटिअर के लिए ऐडवर्टिजमेंट पब्लिश किया गया। इसमें अभ्यर्थियों के लिए अर्हता सूची में पहले नंबर पर निवास स्थान का जिक्र किया गया। इसमें लिखा गया, ‘भारत का नागरिक या सिक्किम अथवा भूटान अथवा नेपाल की जनता और दिल्ली के निवासी।’

सिक्किम सरकार ने लिया संज्ञान
इसका पता चलते ही सिक्किम के मुख्य सचिव एससी गुप्ता ने दिल्ली सरकार को पत्र लिखकर कड़ी आपत्ति दर्ज कराई। उन्होंने दिल्ली सरकार से इस ‘अपमानजनक’ ऐड को तुरंत वापस लेने की मांग की और इसे लोगों के लिए ‘बेहद पीड़ादायक’ बताया।



सिक्किम के मुख्यमंत्री ने कहा- भूल सुधारे दिल्ली सरकार
उधर, सिक्किम के सीएम प्रेम सिंह तमांग ने भी ट्वीट कर इस ऐड पर गहरी आपत्ति जताई। उन्होंने लिखा, ‘सिक्किम भारत का हिस्सा है। यह (विज्ञापन) बिल्कुल निंदनीय है और मैं दिल्ली सरकार से गलती सुधारने का आग्रह करता हूं।’ उन्होंने अगले ट्वीट में कहा, ‘दिल्ली सरकार का यह विज्ञापन विभिन्न प्रिंट मीडिया में प्रकाशित हुआ है जिसमें सिक्किम को भूटान और नेपाल जैसे देशों के साथ रखा गया है। सिक्किम 1975 से भारत का अंग है और एक हफ्ता पहले ही राज्य का स्थापना दिवस मनाया।’

Back to top button
E-Paper