यूपी : एक और पुलिस वाले ने उठाया बड़ा कदम, घर पर फांसी लगाकर की खुदकुशी, सुसाइड नोट बरामद 

गोरखपुर। काम के भारी दबाव के चलते गोरखपुर में तैनात ट्रेनी दरोगा ने वाराणसी में अपने आवास पर फांसी लगाकर कर खुदकुशी कर ली। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। मौके से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। फिलहाल पुलिस आत्महत्या के कारणों का पता लगाने का प्रयास कर रही है।

वाराणसी निवासी शिवकुमार प्रजापति (30) वर्ष 2011-12 बैच में यूपी पुलिस में बतौर उपनिरीक्षक भर्ती हुआ था। इन दिनों शिवकुमार की पोस्टिंग गोरखपुर जनपद के शाहपुर थाने में अंडर ट्रेनिंग के तौर पर हुई थी। काफी दिनों से तनाव में चल रहा शिवकुमार 15 दिन की छुट्टी लेकर घर आया हुआ था। परिजनों के अनुसार वह पिछले कुछ महीनों से पुलिस की नौकरी छोड़ने की चर्चा हमेशा करता रहता था। पुलिस विभाग के बजाय शिक्षा क्षेत्र में शिवकुमार की रुचि थी।

बता दें कि एसोसिएट प्रोफेसर का इंटरव्यू 15 सितंबर को था इसलिए पिछले सप्ताह भर से वह अवकाश पर थे। इसके पहले ही बुधवार की शाम को अपने कमरे में फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। घटना की सूचना स्थानीय थाने की पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव को फंदे से नीचे उतारा। शव को पुलिस ने कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

दोस्तों से की थी सन्यास लेने की बात

शिव कुमार के साथियों की मानें तो वह कुछ दिनों से परेशान चल रहा था। शिव कुमार कई बार अपने दोस्तों से सन्यास लेने की बात भी कही थी।

 

Back to top button
E-Paper