अखिलेश ने साधा भाजपा पर निशाना कहा-तोड़फोड़ करने वालों का  नाम बताओ, 11 लाख पाओ

लखनऊ: राजधानी लखनऊ में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव जनेश्वर मिश्र जयंती के मौके पर जनेश्वर मिश्र पार्क में एक कार्यक्रम में हिस्सा लिया. उन्होंने जनेश्वर मिश्र की प्रतिमा पर फूल अर्पित करने के बाद योगी सरकार और बंगले में तोड़फोड़ के मामले में जमकर निशाना साधा. जल्द ही वह साइकिल यात्रा शुरू करेंगे. गरीबों और किसानों को झूठ से बचाना है. उन्होंने कहा कि सरकारी बंगले में उन्होंने कोई तोड़फोड़ नहीं की. बीजेपी झूठ बोल रही है. बंगला खाली करने के बाद कुछ लोग रात में कुल्हाड़ी, कुदाल लेकर घर में घुसे थे. जो लोग घर में घुसे थे, उनके नाम बताने पर 11 लाख रुपए का इनाम दिया जाएगा. कोई पत्रकार ही बता दे तो उसे इतनी राशि दी जाएगी. उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार ने बदनाम करने के लिए उनके बंगले में तोड़फोड़ कराई.

हमने कोई अवैध निर्माण नहीं कराया, लोगों को वो घर ही क्यों पसंद आ रहा
अखिलेश यादव ने कहा कि हमने सभी संबंधित विभागों से अनापत्ति प्रमाण पत्र लिया था. इसके बाद भी ये आरोप लगाया गया. खाली किए जाने के बाद सरकार ने कुछ लोगों से तोड़फोड़ कराई. उन्होंने कहा कि उनके मंत्री मेरे खाली किए बंगले में रहना चाहते हैं. पत्र लिख रहे हैं. उन्हें राजनाथ सिंह और कल्याण सिंह का घर पसंद नहीं आया. इसका मतलब समझिए कि काम किसने कराया.

स्लॉटर हाउस से चंदा लेती है बीजेपी
हम बीजेपी के खेल में नहीं उलझना चाहते. हमने जीतने का तरीका बीजेपी से ही सीखा है. हम उन्हें गोरखपुर, फूलपुर और कैराना की तरह ही हराएंगे. इसके साथ ही उन्होंने 60 हजार करोड़ के निवेश के दावों पर भी सवाल उठाए और पूछा कि बताएं कि किस बैंक ने लोन दिया. उन्होंने कहा कि ये लोग शिलान्यास का शिलान्यास कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि टेक्नोलाजी में हम बैकवर्ड नहीं हैं, मुख्यमंत्री जी टेक्नोलॉजी में बैकवर्ड हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि स्लॉटर हाउस से बीजेपी ने सबसे ज्यादा चंदा लिया. प्रधानमन्त्री सहित ये लोग बात-बात में झूठ बोलते हैं.

Back to top button
E-Paper