इस सीट से लड़ सकते हैं अमर सिंह चुनाव, हो गया बड़ा ऐलान

समाजवादी पार्टी से निकाले गए नेता अमर सिंह अपने हालिया बयान से चर्चा में आए थे. उन्होंने कहा था कि अब वो समाजवादी पार्टी या बहुजन समाज पार्टी के बजाय नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ को चुनना पसंद करेंगे. अब लग रहा है कि उन्हें इस खेमे से चुनाव लड़ने का मौका भी मिल जाएगा.

खबर है कि 2019 लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी की सहयोगी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी ने अमर सिंह को आज़मगढ़ से टिकट का ऑफर दिया है. अगर अमर सिंह यहां से लड़ते हैं तो उनका सीधा मुकाबला समाजवादी पार्टी के मुलायम सिंह यादव से होगा. मुलायम फिलहाल आज़मगढ़ से सांसद हैं. उन्होंने बीजेपी के रमाकांत यादव को इस सीट पर हराया था.

मीडिया की खबर के मुताबिक

मंगलवार को वाराणसी में मीडिया से बात करते हुए सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी प्रमुख ओम प्रकाश राजभर ने कहा, ‘अमर सिंह बड़े नेता हैं, अगर वे चाहें तो 2019 में आज़मगढ़ से चुनाव लड़ सकते हैं. अगर ये सीट हमारे कोटा में आती है तो हम उन्हें खुशी-खुशी ये सीट ऑफर करेंगे. इसके अलावा एसबीएसपी के दरवाजे उनके लिए हमेशा खुले हैं. हालांकि, एनडीए सहयोगियों के बीच सीटों के बंटवारा अभी होना बाकी है.’

लगता है कि इतने दिनों से रुकी हुई अमर सिंह की राजनीति की गाड़ी फिर से फर्राटे भरने वाली है. अभी जुलाई में ही वो यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सिंह से मिलने गए थे. उन्होंने इसे सामान्य मुलाकात का दर्जा दिया था. इसके बाद वो यूपी सरकार के कार्यक्रम में भी दिखे थे, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कई नए प्रोजेक्ट्स लॉन्च करने आए थे. यहां पीएम ने भी अमर सिंह का जिक्र करते हुए कहा था कि अमर सिंह उन लोगों को जानते हैं जो पर्दे के पीछे उद्योगपतियों से मुलाकात किया करते हैं. हम उद्योगपतियों के साथ तस्वीरें खिंचवाने से डरने वालों में से नहीं हैं.

इस कार्यक्रम के बाद एसपी-बीएसपी गठबंधन पर निशाना साधते हुए अमर सिंह ने इन दोनों राजनीतिक दलों को ‘जातिवादी’ बताया और साथ ही कहा कि वो इनकी जगह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ का समर्थन करते हैं. उन्होंने कहा कि वो स्वच्छ और संवेदनशील राजनीति पसंद करते हैं इसलिए वो बुआ-बबुआ की जगह मोदी-योगी को समर्थन देंगे.

सारे तीर अमर सिंह के टिकट पर निशाने लगा रहे हैं. अब जल्द ही साफ हो जाएगा कि अमर सिंह का ये तीर बस हवा में ही चूक जाता है या टिकट मिलता है.

Back to top button
E-Paper