अमेरिकी महिला का दावा, पाकिस्तान के पूर्व गृहमंत्री रहमान मलिक ने उसका किया था रेप

इस्लामाबाद. पाकिस्तान में रहने वाली एक अमेरिकी ब्लॉगर सिंथिया डी रिची ने पूर्व गृह मंत्री रहमान मलिक पर रेप का आरोप लगाया है। रिची ने पूर्व प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी पर भी शारीरिक प्रताड़ना का गंभीर आरोप लगाया। सिंथिया के मुताबिक, दोनों घटनाएं 2011 की हैं। इस दौरान बेनजीर भुट्टो की पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) सत्ता में थी। फिलहाल, पार्टी की कमान बेनजीर के बेटे बिलावल भुट्टो जरदारी के हाथ में है। 

इमरान की सोशल मीडिया टीम में हैं सिंथिया
सिंथिया ने शुक्रवार को फेसबुक पर एक वीडियो जारी किया। इसमें रहमान मलिक और गिलानी पर आरोप लगाए। रिची के मुताबिक, घटना 2011 में उस वक्त की है जब वो राष्ट्रपति भवन में रहती थीं। खास बात ये है रिची अब प्रधानमंत्री इमरान खान की सोशल मीडिया टीम में हैं। रिची ने कुछ टवीट्स भी किए। एक ट्वीट में कहा- मुझे ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर दिया गया था। मैं चुप रही क्योंकि, पीपीपी सरकार में मेरी मदद करता। मैं अब किसी का भी सामना करने तैयार हूं।  

अमेरिकी दूतावास को दी थी जानकारी
सिंथिया का दावा है कि उन्होंने घटना की जानकारी पाकिस्तान में मौजूद अमेरिकी दूतावास को दी थी। लेकिन, वहां से सही जवाब नहीं मिला। उस दौरान अमेरिका और पाकिस्तान के बीच अच्छे रिश्ते नहीं थे। रिची ने पीपीपी पर गंदी राजनीति का आरोप लगाया। उन्होंने कहा- मैं चाहती हूं कि दुनिया मेरी बात को सुने। 

गिलानी का इनकार
जियो न्यूज के मुताबिक, पूर्व प्रधानमंत्री गिलानी ने सिंथिया के आरोप सिरे से खारिज कर दिए। कहा- क्या एक प्रधानमंत्री एवान-ए-सदर (पाकिस्तान का राष्ट्रपति भवन) में इस तरह की हरकत कर सकता है। रहमान मलिक ने अब तक इस मामले पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। मलिक गृह मंत्री रह चुके हैं। इसके अलावा वो पाकिस्तान की न्यूक्लियर कमांड अथॉरिटी और डिफेंस कोऑर्डिनेशन कमेटी के मेंबर भी रहे हैं। 

शनिवार को भी ट्वीट किए
सिंथिया ने शनिवार को भी कुछ ट्वीट किए। कहा, “पीपीपी नेता मेरे खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं। रेप कल्चर बंद होना चाहिए। महिलाएं एकजुट हों और बच्चों को इस घृणित काम के बारे में जानकारी दें। वैसे यह सिर्फ पीपीपी का मामला नहीं है। कई सियासी पार्टियों ने मेरा शोषण किया। मैंने कभी परिवार को भी इन घटनाओं के बारे में नहीं बताया। मैंने हमेशा पाकिस्तान की एक सॉफ्ट इमेज बनाने के लिए मेहनत की।”

Back to top button
E-Paper