और”बॉर्डर”पर सपा मुखिया अखिलेश ने दिखाई दरिया-दिली! दिलवा दी पचास हजार की आर्थिक मदद

भारत-नेपाल के नो मैन्स लैण्ड रक्सौल में जन्मे नवजात शिशु के माता पिता को सपा नेता डा0 राज्यपाल कशयप सदस्य विधान परिषद ने रुपये 50 हजार की आर्थिक मदद  की घोषणा की

क़ुतुब अन्सारी

बहराइच। जनपद के तहसील मोती पुर के ग्राम झाला कलां पृथ्वी पुरवा का रहने वाला लाला राम अपनी जीविका चलाने के लिये पत्नी जानतारा के साथ पड़ोसी देश नेपाल के नवल परासी जिले में स्थित जगत ईंट फैक्ट्री पर मेहनत मजदूरी करता था बताया जाता है कि कोरोना आपदा के कारण बेरोजगार हुआ लाला राम अपने घर वापस आने की आस में अपनी गर्भवती पत्नी के साथ शनिवार को भारत नेपाल सीमा के रक्सौल बार्डर पर पहुंचा नो मेन्स लेण्ड पर बड़ी तादाद में भारतीय नागरिक भारत में आने के लिये इकट्ठा थे और भारतीय क्षेत्र में प्रवेश पाने के लिये अपनी अपनी बारी का इन्तिजार कर रहे थे इसी दौरान अचानक सुबह के चार बजे लाला राम की गर्भवती पत्नी जानतारा को प्रसव पीड़ा शुरू हुई पत्नी की हालत देख लाला राम बैचेन हो गया उसकी स्थित देख वहां मौजूद दूसरे भारतीय नागरिकों ने हिम्मत बंधाई और महिलायें मदद के लिये आगे बढ़ी व कुछ महिलाओं ने एक घेरा बनाते हुवे प्रसव पीड़िता को चादर के घेरे में लिया लगभग 11 बजे के करीब लाला राम की पत्नी ने नो मेन्स लैण्ड पर ही एक शिशु को जन्म दिया बार्डर पर मौजूद पुलिस ने फौरी उसे इंट्री दी और एम्बुलेन्स की मदद से उसे नोतनवा सी एच सी भेजा गया जहां जांच में जच्चा बच्चा पूर्ण रूप से स्वस्थ्य पाये गये। पुत्र के पैदा होने पर लाला राम ने उसका नामकरण करते हुवे “बार्डर” रखा है।

लाला राम के पहले से दो बेटियां और एक बेटा है यह उसकी चौथी सन्तान है।इस सम्बंध मे समाज वादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व मुख्यमन्त्री अखिलेश यादव को इस दलित परिवार की जब पूरी कहानी मालूम हुई तुरन्त उन्होंने पार्टी नेता व सदस्य विधान परिषद डा0 राज्यपाल कशयप को उसकी आर्थिक मदद करने की बात कही जिस पर डा0 राज्यपाल कश्यप ने बहराइच निवासी इस दम्पति को अपनी ओर से 50 हजार रूपये की सहायता दिये जाने की घोषणा की है।

सपा के निवर्तमान जिलाध्यक्ष ने दी बधाई
सपा के निवर्तमान जिला अध्यक्ष लक्ष्मी नरायन यादव ने डा0 राज्यपाल कशयप को बधाई देते हुवे पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के प्रति अपना आभार प्रकट किया।

Back to top button
E-Paper