भगवान से मिलने के लिए अपनाया ये तरीका, फिर जानिए क्या हुआ हाल…

विजयवाड़ा: पुलिस ने आंध्र प्रदेश में भगवान तक पहुंचने के लिए स्वयं को जिंदा दफना रहे एक व्यक्ति को रोक लिया। आध्यात्म से जुड़े व्यक्ति ने स्वयं के लिए अपनी खेती की जमीन पर एक कब्र तैयार की थी। गुंटूर जिले में स्थित गन्नावरम गांव में रहने वाले थातिरेड्डी लाची रेड्डी ने अपनी खेती की जमीन में एक समाधि तैयार की थी। पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर रेड्डी को बड़ा कदम उठाने से रोक लिया। यह घटना बुधवार की है, लेकिन शुक्रवार को इसके बारे में जानकारी मिली।

पुलिस के अनुसार, रेड्डी की उम्र 70 साल से अधिक है और उन्होंने अपनी समाधि के लिए 10 फीट गड्ढा खोदा था। स्थानीय निवासियों ने रेड्डी को आत्महत्या के कारण उनके परिवार को होने वाली समस्याओं को लेकर चेताया था।

रेड्डी ने जिला कलेक्टर को पत्र लिखकर स्वयं को दफन करने की अनुमति मांगी। उन्होंने बुधवार को अपने जीवन का अंत करने का फैसला लिया। कलेक्टर के कार्यालय ने पुलिस को इसकी सूचना दी।

पुलिस के अनुसार

रेड्डी गहन रूप से आध्यात्म से जुड़ा हुआ था। उनकी पत्नी की हाल ही में मृत्यु हुई थी। उन्होंने गांववासियों को बताया कि उनका बेटा और पोता अच्छे से जीवन गुजार रहे हैं और उनके पास जीवन में करने के लिए कुछ नहीं रह गया है। इसलिए, वह भगवान तक पहुंचना चाहते हैं। पुलिस अधिकारी ने कहा कि उन्होंने रेड्डी को समझाया और उन्हें यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि वह स्वयं को दफनाने की कोशिश दोबारा नहीं करेंगे।

 

Back to top button
E-Paper