Asia Cup: बस कुछ ही देर में मैदान में आमने-सामने होंगे भारत-पाकिस्तान; पढ़े LIVE UPDATES   

Asia Cup: कुछ ही घंटों में शुरू होने वाला भारत-पाक मुकाबला, जानिए पिछले मैच की 5 खास बातें

नई दिल्ली: भारत और पाकिस्तान के बीच मैच का इंतजार फैन्स बेसब्री से करते रहते हैं. इस बार तो फैन्स को भारत और पाकिस्तान के हाईवोल्टेज मुकालबे देखने का मौका एक ही हफ्ते में दूसरी बार मिल रहा है. भारत और पाकिस्तान के टीमें आज यानि 23 सितंबर को बस कुछ ही घंटों बाद एक बार फिर एशिया कप-2018 के सुपर-4 के मैच में एक-दूसरे के सामने होंगी. दोनों टीमों के बीच हुए लीग मैच में भारत ने पाकिस्तान पर 8 विकेट से आसान जीत दर्ज की थी. पाकिस्तान की नजर उस हार का बदला लेने पर होगी. लेकिन आपको बता दें कि एशिया कप के इतिहास पर नजर डालें तो भारत का पलड़ा भारी है.

19 सितंबर को दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में दर्शकों से खचाखच भरे स्टेडियम में सरफराज अहमद ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. भारतीय गेंदबाजों ने शुरू में ही दो विकेट लेकर अच्छी शुरुआत की, लेकिन बाबर आजम और शोएब मलिक ने तीसरे विकेट के बीच 82 रन की भागीदारी की. बाबर कुलदीप की गेंद पर आउट हुए. पाकिस्तान केवल 162 रन बना पाया. जवाब में कप्तान रोहित शर्मा के अर्द्धशतक की बदौलत टीम इंडिया ने 21 ओवर रहते आसानी से मैच जीत लिया. आइए एक बार फिर से इस मैच की कुछ यादें ताजा कर लेते हैं.

फखर जमां वन-डे में पहली बार शून्य पर आउट
फखर जमां पिछले साल आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पाकिस्तानी जीत के स्टार थे. यह साल भी फखर जमां का शानदार रहा है. जिंबाब्वे के खिलाफ उन्होंने दोहरा शतक बनाया. जाहिर है पाकिस्तान को उनसे बहुत उम्मीद थी, लेकिन बुधवार के मैच में वह पूरी तरह से असफल रहे. भारत के तेज गेंदबाजों ने टाइट लेंथ पर गेंदबाजी की. फखर जमां को हाथ खोलने का मौका नहीं मिला. जमान ने आठ डॉट बाल खेली और इसके बाद युजवेंद्र चहल ने भुवनेश्वर की गेंद पर उन्हें आउट कर दिया. फखर जमां वन-डे में पहली बार शून्य पर आउट हुए.

भुवनेश्वर कुमार का इकोनॉमिक स्पैल

भुवनेश्वर कुमार पिछले कुछ मैचों से अच्छी गेंदबाजी नहीं कर पाए थे. इंग्लैंड के खिलाफ वन-डे सीरीज में भी उनका प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा था. लो बैक इंजरी के चलते भुवनेश्वर टेस्ट सीरीज से बाहर हो गए थे. एशिया कप के पहले ही मैच में हॉन्गकॉन्ग के खिलाफ भुवी को कोई विकेट नहीं मिला था. लेकिन इन असफलताओं को पीछे छोड़ते हुए भुवनेश्वर ने पाकिस्तान के खिलाफ शानदार गेंदबाजी की. पहले स्पैल में भुवनेश्वर ने केवल 15 रन दिए और दो महत्वपूर्ण विकेट लिए. डेथ ओवर में भुवनेश्वर ने हसन अली का विकेट लिया. जाधव के तीन विकेट अखबारों की सुर्खियां बनी, लेकिन भुवनेश्वर ने ही दरअसल इस जीत की बुनियाद रखी थी.

Bhuvneshwar Kumar

मनीष पांडे का शानदार कैच
मनीष पांडे बल्ले से शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं. इंडिया बी की तरफ से हाल ही में उन्होंने काफी रन बनाए, लेकिन पहले दो वन-डे के लिए मनीष पांडे को एशिया कप की वन-डे टीम में नहीं चुना गया. मनीष पांडे शानदार बल्लेबाज होने के साथ साथ एक बेहतरीन फील्डर भी हैं. पाकिस्तान के खिलाफ मैच में पांडे, हार्दिक पांड्या की जगह फील्डिंग करने आए. मनीष ने पाकिस्तानी कप्तान सरफराज को आउट करने के लिए एक जादुई कैच पकड़ा. सरफराज ने पार्ट टाइम गेंदबाज केदार जाधव की गेंद को वाइड लॉन्ग शॉट खेला. मनीष ने दौड़ते हुए असंभव से दिखने वाले कैच को पकड़ लिया. उन्होंने अपनी दाईं तरफ दौड़ते हुए काफी मैदान कवर किया. कैच पकड़ने के बाद ऐसा लग रहा था कि वह सीमा पार निकल जाएंगे, लेकिन उन्होंने खुद को बाहर जाने से रोका और सरफराज पवेलियन लौट गए.

रोहित शर्मा की ओपनर की रूप में 100वीं पारी
19 सितंबर का दिन रोहित शर्मा के लिए बेहद खास रहा. टीम इंडिया के कप्तान जब ओपनिंग करने के लिए मैदान पर उतरे तो यह ओपनर के रूप में उनकी 100वीं पारी थी. रोहित ने इस पल को शानदार अर्द्धशतक के साथ सेलिब्रेट किया. अंतरराष्ट्रीय करियर के शुरू में रोहित शर्मा को टीम में जगह बनाने के लिए काफी संघर्ष करना पड़ा. जब वह ओपनर के रूप में खेलने लगे तो उन्हें सफलता मिलनी शुरू हुई. मुंबई के इस खिलाड़ी का औसत ओपनर के रूप में 54 है. वह ओपनर के रूप में 16 वन-डे शतक लगा चुके हैँ. आज वह दुनिया के सबसे खतरनाक ओपनरों में शामिल हैं.

Rohit Sharma

रोहित शर्मा के 294 मैचों में 294 छक्के
रोहित शर्मा को टीम इंडिया में बड़े हिटर के रूप में भी देखा जाता है. जब वह फॉर्म में होते हैं तो दुनिया के किसी भी मैदान पर गेंद को सीमा पार पहुंचा सकते हैं. बुधवार को भी पाकिस्तान के खिलाफ शादाब की गेंद पर आउट होने से पहले वह यही कर रहे थे. रोहित ने इस मैच में तीन शानदार लंबे छक्के लगाए. इसके साथ ही रोहित ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 294 छक्के लगा दिए हैं. वह 300 से केवल छह छक्के दूर हैं. वह भारतीय खिलाड़ियों में केवल महेंद्र सिंह धोनी से दूर हैं.

बता दें कि एशिया कप में भारत और पाकिस्तान के बीच 12 वन-डे मैच खेले गए हैं. इसमें 6 भारत ने तो 5 पाकिस्तान ने जीते हैं. एक मैच का नतीजा नहीं निकला था.

 
Back to top button
E-Paper