बहराइच : वृहद गौ संरक्षण केन्द्र कुण्डासर का एसडीएम कैसरगंज ने किया निरीक्षण

ट्रिप्नोसोमिएसिस रोग से ग्रस्त दो गोवंशों की हुई मौत

बहराइच। कतिपय समाचार-पत्रों में वृहद गौ संरक्षण केन्द्र कुण्डासर के सम्बन्ध में प्रकाशित समाचार का संज्ञान लेते हुए जिलाधिकारी डॉ. दिनेश चन्द्र के निर्देश पर उप जिलाधिकारी कैसरगंज महेश कुमार कैथल ने सहायक विकास अधिकारी कृषि व मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ. एम.के. सचान के साथ वृहद गो संरक्षण केन्द्र कुण्डासर का निरीक्षण किया गया।

एसडीएम कैथल ने बताया कि निरीक्षण के दौरान पशु चिकित्साधिकारी कुण्डासर द्वारा बताया गया कि 02 गोवंशों को ट्रिप्नोसोमिएसिस नामक बीमारी थी, जिसके कारण उक्त दोनों गोवंशों की 04 जून 2022 को मृत्यु हो गयी है। पशु चिकित्साधिकारी ने यह भी बताया कि उक्त दोनों बीमार गोवंशों का 03 दिन से इलाज चल रहा था। दोनों गोवंशों की उम्र लगभग 14 वर्ष थी। मृतक दोनों गोवंशों जिनका टैग नं. 190359801665 व 190359662447 था, ग्रामवासियों कंधई लाल पुत्र राम प्रसाद, चेतराम व रामबरन पुत्रगण साहबदीन, महादेव पुत्र भगवानदीन व आशिक अली पुत्र बाबू के समक्ष पंचनामा करके सम्मानपूर्वक निस्तारण करा दिया गया है।

अपनी आख्या में श्री कैथल ने यह भी उल्लेख किया है कि तहसील व ब्लाक कैसरगंज अन्तर्गत संचालित वृहद गो संरक्षण केन्द्र कुण्डासर में 313 नर व 163 मादा कुल 476 गोवंश संरक्षित हैं। गोवंश आश्रय स्थल पर लगभग 48 कुण्टल भूसा व 04 कुण्टल दाना उपलब्ध है। हरे खरे के लिए यहॉ पर 3.5 बीघा चरी बोई गई है। यहॉ पर गोवंशों के लिए 04 शेड भी बनाये गये हैं। यहॉ पर गोवंशों के लिए स्वच्छ पानी की पर्याप्त व्यवस्था पायी गयी। निरीक्षण के दौरान साफ-सफाई संतोषजनक पायी गयी।

Back to top button