बांदा : थमने का नाम नहीं ले रहा BJP नेता और प्रॉपर्टी डीलर का कोल्ड वॉर

दैनिक भास्कर न्यूज

बांदा। पूर्व विधायक के पुत्र और प्रॉपर्टी डीलर दीपक गुप्ता के बीच चल रहा कोल्ड वार थमने का नाम नहीं ले रहा है। दोनों पक्ष एक दूसरे के खिलाफ कहीं आडियो-वीडियो वायरल करते हैं तो कहीं एक दूसरे पर मुकदमा दर्ज कराने का काम करते हैं। ऐसे ही दीपक ने पूर्व विधायक के पुत्र के खिलाफ डकैती का मुकदमा दर्ज करा दिया, जिसे लेकर भाजपाइयों में आक्रोश पनपने लगा है। बुधवार को भाजपाइयों ने पुलिस अधीक्षक से मुलाकात कर इस मामले को फर्जी करार दिया है और जांच कराकर मुकदमा खत्म करने व भूमाफिया पर कार्रवाई की मांग की है।

प्रॉपर्टी डीलर ने पूर्व विधायक के पुत्र पर दर्ज कराया डकैती का मुकदमा

मामला पूर्व विधायक राजकुमार शिवहरे के पुत्र भाजपा नेता स्वदेश शिवहरे गोलू का है। कुछ समय पहले उसका प्रॉपर्टी डीलर दीपक गुप्ता से लेन देन का विवाद सामने आया था, जिसके बाद से एक दूसरे के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने और ऑडियो वीडियो वायरल करने का सिलसिला सा चल पड़ा। प्रॉपर्टी डीलर दीपक गुप्ता निवासी मोहल्ला पोड़ाबाग काे निवर्तमान चेयरमैन मोहन साहू का खास बताया जाता है। वह स्वयं भी खुद को हिंदू शेर सेना और मोदी समर्थक मंच का राष्ट्रीय पदाधिकारी बताता है।

बुधवार को पूर्व विधायक राजकुमार शिवहरे ने अपने समर्थकों के साथ एसपी से मुलाकात की और बताया कि प्रॉपर्टी डीलर दीपक गुप्ता ने तत्कालीन चेयरमैन मोहन साहू से साठगांठ कर शहर के मोहल्ला बिजलीखेड़ा निवासी अरविंद सिंह का मकान गलत तरीके से नगर पालिका में अपने नाम पर दर्ज करवा लिया था। अरविंद सिंह ने जब विरोध किया तो नगर पालिका के गृहकर लिपिक विनोद कुमार की तहरीर पर 23 नवंबर 2022 को थाना कोतवाली में 422, 466 आईपीसी के अंतर्गत मुकदमा दर्ज किया गया था।

पूर्व विधायक व भाजपाइयों ने एसपी को की मुलाकात, कार्रवाई की मांग

इसके बाद आरोपी दीपक गुप्ता ने उच्चाधिकारियों को गुमराह कर थाना कोतवाली नगर में उनके पुत्र डॉ.स्वदेश गौरव शिवहरे उर्फ गोलू समेत मकान के वास्तविक मालिक अरविन्द सिंह व उनके परिजनों के विरुद्ध डकैती जैसे जघन्य अपराध का धारा 395, 452, 504, 506 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज करवा दिया है, जबकि उनके पुत्र स्वदेश गौरव शिवहरे ने इसके पूर्व थाना कोतवाली नगर में धारा 147, 400, 504, 506 आईपीसी के तहत दीपक गुप्ता व अन्य दो के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत कराया था, जिसमें आरोप पत्र प्रेषित किया जा चुका है।

बताया कि इसी पेशबंदी के चलते दीपक गुप्ता ने उनके पुत्र व अरविन्द सिंह के खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज करवाया गया है। जबकि घटना के समय उनका पुत्र स्वदेश ओमेक्स रेजीडेंस लखनऊ में अपने आवास व रेस्टोरेन्ट में मौजूद था, जिससे सम्बन्धित साक्ष्य भी उनके पास मौजूद हैं। इस झूठे मुकदमे से उनकी सामाजिक प्रतिष्ठा खराब हो रही है। उन्होंने पुलिस अधीक्षक से तत्काल उचित कार्रवाई की मांग की है। इस मौके पर पूर्व विधायक के साथ पूर्व चेयरमैन राजकुमार राज, अमित सेठ भोलू, सुमित दीक्षित, अर्जुन सिंह, अलंकार तिवारी, शिवप्यारे तिवारी, अभय प्रताप सिंह, पंकज रैकवार, श्याम सिंह, अशोक गुप्ता आदि मौजूद रहे।

Back to top button