तीव्र गति से चल रहा हनुमान सरोवर का सौन्दर्यीकरण

नबी अहमद

रूपईडीहा/बहराइच। कोविड 19 ने दशकों से चली आ रही कस्बे की मांग लगता है पूरी कर दी। प्रदेश सरकार की ग्रामीण मजदूरों को रोजगार से जोड़ने की मंशा को गांव सभा केवलपुर मे भी कार्य रूप मे परिणत किया जा रहा है। मनरेगा के अन्तर्गत हनुमान सरोवर का कायाकल्प शुरू हो गया है। इस सरोवर का पूर्ण रूप से सौन्दर्यीकरण की योजना है। इस संबंध मे जानकारी देते हुए प्रधान प्रतिनिधि मो. जुबेर फारूकी ने बताया कि तालाब की उत्तर दिशा की ओर सीढ़िया बनायी जा रही है। प्रथम तल की सीढ़ी व अंतिम सीढ़ी की चैड़ाई दो मीटर की होगी। शेष बीच मे सात सीढ़ियां होगी जो एक मीटर की चैड़ाई मे होगी।

कुल नौ सीढ़ियां होगी। नवाबगंज ब्लाक के जेई फिरोज खान ने बताया कि लगभग 12 लाख की कार्य योजना है। तालाब के सौन्दर्यीकरण के लिए दो ओर बेंच व प्लांटेशन के साथ साथ तारों की फेंसिंग करायी जायेगी। इसी से सटा देवी देवताओं का मंदिर है। मंदिर मे हनुमान जी, दुर्गा जी, श्रीराम दरबार व साईनाथ का भी मंदिर है। छठ माता महोत्सव समिति के अध्यक्ष कमल मदेशिया ने बताया कि बीते लगभग एक दशक से शासन प्रशासन से सौन्दर्यीकरण की मांग की जा रही थी। इस तालाब के तट पर ही हजारों महिलाए छठ पूजन हेतु कीचड़ मे खड़ी होती थी। हम इस कार्य के लिए निर्माण कर्ताओं के प्रति कृतज्ञ है।

Back to top button
E-Paper