मूसेवाला हत्याकांड में बड़ा खुलासा : केकड़ा बोला- रेकी के लिए मिलता था 15 हजार रुपए

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में पकड़ा गया संदीप केकड़ा ने पंजाब पुलिस की पूछताछ में बड़ा खुलासा किया है। केकड़ा ने बताया कि मूसेवाला की रेकी के बदले उसे सिर्फ 15 हजार रुपए मिले थे।

मुझे मर्डर का अंदेशा नहीं था

उसने कहा कि मुझे मूसेवाला की हत्या के बारे में जानकारी नहीं थी। मुझे लगा कि मुझसे सिर्फ रेकी करवाई जा रही है। मुझे मर्डर का अंदेशा नहीं था। हालांकि, केकड़ा के इस दावे पर पंजाब पुलिस यकीन नहीं कर रही। अभी आगे उससे और पूछताछ की जाएगी। संदीप हरियाणा के सिरसा स्थित कालांवाली का रहने वाला है।

केकड़ा ने चाय पीते हुए सेल्फी ली

पुलिस जांच में सामने आया था कि हत्या के दिन संदीप केकड़ा मूसेवाला के घर गया था। उसने वहां चाय पी। फिर मूसेवाला के साथ सेल्फी ली। इसके बाद कनाडा में बैठे गैंगस्टर गोल्डी बराड़ को जानकारी दी थी।इसके बदले शार्प शूटर्स को पनाह देने वाले प्रभदीप पब्बी ने उसे 15 हजार रुपए दिए।

कत्ल के दिन केकड़ा ने 13 बार गोल्डी बराड़ से की बातचीत

पुलिस पूछताछ में संदीप केकड़ा ने बताया कि उसकी कनाडा बैठे गैंगस्टर गोल्डी बराड़ से हत्या वाले दिन 13 बार बात हुई। वह गोल्डी बराड़ को मूसेवाला की हर मूवमेंट की जानकारी देता रहा। उसने ही गोल्डी को बताया कि मूसेवाला बिना गनमैन के जा रहा है। मूसेवाला जिस थार जीप में जा रहा है, वह बुलेट प्रूफ नहीं है। मूसेवाला के साथ 2 लोग और हैं लेकिन उनके पास हथियार नहीं हैं। हालांकि केकड़ा अब भी यह दावा कर रहा है कि उसे नहीं पता कि गोल्डी बराड़ बड़ा गैंगस्टर है और वह मूसेवाला की हत्या करने के लिए उससे मुखबिरी करवा रहा है।

बठिंडा से संदिग्ध शार्प शूटर रानू पुलिस की गिरफ्त में

पुलिस ने मूसेवाला हत्याकांड में संदिग्ध हरकमल रानू को हिरासत में लिया है। परिवार का कहना है कि उन्होंने ही रानू को पुलिस के हवाले किया। उनका बेटा आपराधिक किस्म का है, लेकिन मूसेवाला का कत्ल नहीं कर सकता। हाल ही में पंजाब पुलिस ने 8 संदिग्ध शार्प शूटर्स की फोटो जारी की थी, जिसमें रानू भी शामिल था। इससे पहले पुलिस ने चेतन और केशव को भी बठिंडा से हिरासत में लिया है। उनसे पूछताछ की जा रही है।

अब तक पुलिस हिरासत में 8 लोग

मूसेवाला हत्याकांड में पंजाब पुलिस ने 8 गिरफ्तारियां की हैं। इनमें मनप्रीत सिंह उर्फ मन्ना निवासी खंडा चौक के नजदीक तलवंडी साबो बठिंडा, ढैपई जिला फरीदकोट का मनप्रीत भाऊ, अमृतसर का सराज मिंटू, प्रभदीप सिंह पब्बी निवासी तख्तमल कालांवाली हरियाणा, मोनू डागर निवासी रेवली जिला सोनीपत हरियाणा, पवन बिश्नोई निवासी फतेहाबाद हरियाणा, नसीब निवासी फतेहाबाद हरियाणा और संदीप सिंह उर्फ केकड़ा निवासी कालांवाली मंडी जिला सिरसा हरियाणा शामिल हैं।

Back to top button