बड़ी खबर : यूक्रेन को रक्षा आपूर्ति पर पुतिन ने पश्चिम देशों को दी ये बड़ी चेतावनी

कीव। यूक्रेन की राजधानी कीव में रविवार तड़के रूसी मिसाइलों से हमला कर पश्चिमी देशों से मिलने वाली रक्षा आपूर्ति को नष्ट करने के लिए कई बुनियादी ढांचों को निशाना बनाया। रूस ने इन हमलों में कीव को विदेश से मिले कई टैंक को नेस्तनाबूद करने का दावा किया। वहीं यूक्रेन ने रूस के दावों पर कुछ नहीं बोला है। वहीं, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने चेताया कि पश्चिमी देशों से यूक्रेन को लंबी दूरी की रॉकेट प्रणाली की कोई भी आपूर्ति मॉस्को को उन लक्ष्यों को निशाना बनाने के लिए उकसाएगी, जिन पर उसने अभी तक हमला नहीं किया है।

पुतिन की यह धमकी अमेरिका की यूक्रेन को 70 करोड़ डॉलर की सुरक्षा सहायता देने की घोषणा के बाद आई है, जिसमें चार मध्यम दूरी की रॉकेट प्रणाली, हेलीकॉप्टर, जैवलिन टैंक रोधी हथियार प्रणाली, राडार, सामरिक वाहन आदि शामिल हैं।

रूसी बलों ने रविवार तडक़े कीव में रेल प्रतिष्ठानों और अन्य बुनियादी ढांचों को निशाना बनाया। यूक्रेन के परमाणु संयंत्र संचालक एनरगोटॉम ने कहा कि एक क्रूज मिसाइल राजधानी से लगभग 350 किलोमीटर दूर दक्षिण में स्थित पिवडेनौक्रेनस्क परमाणु संयंत्र के पास आ गिरी। कीव के महापौर ने राजधानी के कई बुनियादी ढांचों पर रूस के मिसाइल हमलों की पुष्टि की। हालांकि, उन्होंने बताया कि इन हमलों में किसी के मारे जाने की सूचना नहीं है और एक व्यक्ति को घायल अवस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने कहा कि हमले में कोई हताहत नहीं हुआ है, लेकिन शहर के दो उद्यमों को भारी क्षति पहुंची है। यूक्रेन के जनरल स्टाफ ने रूसी सेना पर खारकीव क्षेत्र में रविवार सुबह फास्फोरस युक्त हथियारों का उपयोग करने का आरोप लगाया।

इस हमले ने कीव में शांति की उम्मीद को ध्वस्त कर दिया है, जिसने संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस की 28 अप्रैल की यात्रा के बाद से इस तरह के हमले नहीं देखे थे। कीव के महापौर विटाली क्लिट्स्को ने कहा कि मिसाइल शहर के दर्नित्सकी और निप्रोवस्की जिलों पर गिरीं तथा आपातकालीन सेवाएं घटनास्थल पर पहुंच गईं।

सैन्य विश्लेषकों का कहना है कि रूस युद्ध का रुख पलटने वाले किसी भी हथियार के यूक्रेन पहुंचने से पहले संकटग्रस्त पूर्वी डोनबास क्षेत्र पर पूर्ण रूप से कब्जा जमाने की कोशिश कर रहा है, जहां रूस समर्थित अलगाववादियों ने वर्षों से यूक्रेनी सरकार से लड़ाई लड़ी है। पेंटागन ने सप्ताह की शुरुआत में कहा था कि सटीक अमेरिकी हथियारों और प्रशिक्षित जवानों को युद्ध के मैदान में पहुंचाने में कम से कम तीन हफ्ते लगेंगे।

यूक्रेन पर रूस के युद्ध के 100 से अधिक दिन हो गए हैं। लुहान्स्क के गवर्नर सेरही हैदई ने टेलीग्राम पर कहा, गिर्सके और मिर्ना डोलिना क्षेत्रों में केए-52 हेलीकॉप्टरों द्वारा हवाई हमले किए गए। सु-25 विमान से उस्तिनिव्का पर हमले किए गए। हमलों में गिर्सके में कुल 13 और लिसिचन्स्क में पांच घर क्षतिग्रस्त हो गए। एक और हवाई हमले की सूचना पूर्वी शहर क्रामाटोरस्क में इसके मेयर ऑलेक्जेंडर गोंचारेंको ने दी।

Back to top button