बड़ा हादसा टला : दुर्घटनाग्रस्त होने से बाल-बाल बची इंटरसिटी सुपरफास्ट एक्सप्रेस

गोपाल त्रिपाठी 
गोरखपुर। गोरखपुर-लखनऊ रुट पर बभनान रेलवे स्टेशन के आगे परसा तिवारी रेलवे स्टेशन पर इंटरसिटी सुपरफास्ट एक्सप्रेस (12531) अप को मंगलवार को मेन लाइन फेलियर होने की दशा में एक नम्बर वाया लूप लाइन से सुबह 7.22 पर निकाला जा रहा था। नियमत: एक नम्बर वाया लूप लाइन से किसी भी ट्रेन को महज 30 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गुजरना होता है। लेकिन सिग्नल यलो की बजाए ग्रीन देखकर चालक द्वारा ट्रेन को 80 की स्पीड से निकाला जा रहा था। अचानक गलती का अहसास होने पर चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगा दिया। ट्रेन में बैठे यात्री झटका खाकर गिर पड़े तो पहिए से चिंगारी निकलने लगी।
अफरा-तफरी के बीच यात्री ट्रेन से कूद कर भागने लगे। स्टेशन मास्टर के कक्ष तक पहुंच गए और हंगामा करते हुए घटना की वजह पूछने लगे। वहां बताया गया कि अधिक स्पीड होने के कारण ऐसा हुआ है। करीब बारह मिनट बाद 7.34 पर ट्रेन को लखनऊ की ओर रवाना किया गया। स्टेशन अधीक्षक बीके मिश्र ने बताया कि एक नम्बर बाया लूप लाइन से ट्रेन को निकाला जा रहा था। चालक ने स्पीड कम किए बिना गाड़ी को एक नम्बर बाया लूप लाइन से निकाला और इमरजेंसी ब्रेक लगाने पर पहियों से चिंगारी व धुंआ निकलने लगा। कोई भी यात्री चोटिल नहीं हुआ है।
Back to top button
E-Paper