बिहार में गुंडों की बहार : वो सड़क पर चीखता रहा…भीड़ पीटती रही; 150 लोगों पर केस  

नई दिल्ली। बिहार के सीतामढ़ी जिले में पिक वैन ड्राइवर का पैसा छीनकर भागने के आरोप में बाइक सवार की लोगों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी।

पिक अप ड्राइवर ने आरोप लगाया था कि आरोपी उसके पैसे लेकर भाग रहा था, तभी वहां ग्रामीण इकट्ठा हो गए, जिसके बाद भीड़ ने उसकी पीट-पीटकर हत्या कर दी। जानकारी के अनुसार रूपेश झा बाइक से जा रहा था, इसी दौरान पिक अप वैन ड्राइवर ने आरोप लगाया कि वह उसके पैसे लेकर भाग रहा है। यह घटना राम नगर गांव की है जोकि रिगा पुलिस स्टेशन इलाके में आता है।

mob lynching

ग्रामीणों ने राम नगर गांव में ही रूपेश झा को रोक लिया जहां उसकी ग्रामीणों से बहस होने लगी, जोकि बाद में हाथापाई में बदल गई। सीतामढ़ी सदर के डीएसपी वीर धीरेंद्र ने कहा कि रूपेश की गांव के कुछ लोगों से बहस हुई थी, जिसके बाद उसे बुरी तरह से पीटा गया था।

रूपेश को घायल अवस्था में पहले सदर अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे पटना मेडिकल कॉलेज में ट्रांसफर कर दिया गया, जहां उसकी मौत हो गई। डीएसपी ने बताया कि रूपेश की हत्या की क्या वजह है यह जांच के बाद ही साफ होगा, हम मामले की जांच कर रहे हैं। पुलिस सूत्रों के अनुसार पिक अप वैन के ड्राइवर ने आरोप लगाया था कि झा अपनी बाइक से उसके पैसे लेकर भाग रहा था।

पुलिस सूत्र के अनुसार

झा पिक अप ड्राइवर का पैसा लेकर भाग रहा था, जब ड्राइवर ने चिल्लाना शुरू किया तो ग्रामीणों ने उसे रोक लिया और उसकी डंडों से बुरी तरह से पिटाई की। वहीं झा के रिश्तेदारों का कहना है कि ग्रामीणों ने उसे सिर्फ इसलिए पीटा था क्योंकि वह पिक अप को ओवरटेक करने की कोशिश कर रहा था। डीएसपी से जब पूछा गया कि क्या छीना गया पैसा बरामद हुआ हे तो उन्होंने कहा कि हम इस मामले की हर पहलू से जांच कर रहे हैं।

Back to top button
E-Paper