BJP manifesto 2020: बिहार में NDA की सरकार बनी तो कोरोना का टीका फ्री, भाजपा ने लिए 11 संकल्प…

विधानसभा चुनाव के मतदान के लिए चंद दिन शेष बचे हैं. राजनीतिक दलों ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में बड़े-बड़े वादे किए हैं. जनता को लुभाने के लिए तरह-तरह के लालच दिए जा रहे हैं. लेकिन सवाल ये है कि सत्ता में आने के बाद क्या ये दल अपने चुनावी वादों को पूरा करेंगे या जनता एक बार फिर खुद को ठगा महसूस करेगी. वादों को पूरा करने का दावा करने वाली भारतीय जनता पार्टी  (बीजेपी) ने अब बिहार विधानसभा चुनाव के लिए अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की मौजूदगी में पटना में ये संकल्प पत्र जारी किया गया. इस दौरान बीजेपी ने 11 बड़े संकल्प किए हैं और सत्ता में आने पर कई वादों को पूरा करने का दावा किया गया है. बीजेपी की ओर से नए नारे भी दिए हैं, जिसमें ‘बीजेपी है तो भरोसा है’ और ‘5 सूत्र, एक लक्ष्य, 11 संकल्प’ भी शामिल है.वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, भूपेंद्र यादव समेत अन्य नेताओं ने यहां प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया. निर्मला सीतारमण बोलीं कि जबतक कोरोना वैक्सीन नहीं आती है, तबतक मास्क ही वैक्सीन है. लेकिन जैसे ही वैक्सीन आएगी तो भारत में उसका प्रोडक्शन बड़े स्तर पर किया जाएगा.बीजेपी ने बिहार के संकल्प पत्र में किये ये वादे…1.    हर बिहारवासी को कोरोना वैक्सीन का निशुल्क टीकाकरण करवाना.2.    मेडिकल, इंजीनियरिंग समेत अन्य तकनीकी शिक्षा को हिन्दी भाषा में उपलब्ध कराना.3.    एक साल में पूरे प्रदेश में तीन लाख नए शिक्षकों की भर्ती करना.4.    नेक्स्ट जेनरेशन आईटी हब में पांच साल में पांच लाख रोजगार.5.    एक करोड़ महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने का वादा.6.    एक लाख लोगों को स्वास्थ्य विभाग में नौकरी. 2024 तक दरभंगा एम्स को चालू करवाना.7.    धान और गेहूं के बाद दलहन की खरीद भी MSP की दरों पर.8.    30 लाख लोगों को 2022 तक पक्के मकान देने का वादा.9.    2 साल में 15 नए प्रोसेसिंग उद्योग लगाने का वादा.10.    2 साल में मीठे पानी में पलने वाली मछलियों का उत्पादन बढ़ाना.11.    किसान उत्पाद संघों की बेहतर सप्लाई चेन बनाना, जिससे 10 लाख रोजगार पैदा होंगे.वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को विजन डॉक्यूमेंट जारी करते हुए कहा कि बीजेपी ने अपने सभी वादे पूरे करके दिखाए हैं, ऐसे में हम जो संकल्प ले रहे हैं बिहार की जनता जानती है हम ही पूरा कर सकते हैं. निर्मला सीतारमण ने कहा कि पहले की सरकार के लिए यहां रोजगार देना महत्व ही नहीं था, हमारी सरकार आने के बाद बिहार में रोजगार के अवसर बढ़ाए गए और साथ ही कृषि के क्षेत्र में विकास दर को काफी अधिक बढ़ाया गया.आपको बता दें कि बिहार में भारतीय जनता पार्टी और जेडीयू साथ चुनाव लड़ रही हैं. जेडीयू की ओर से पहले ही सात निश्चय की बात कही गई है और एनडीए ने एक साझा विजन डॉक्यूमेंट भी जारी किया है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि एनडीए की सरकार आने पर नीतीश कुमार ही हमारे मुख्यमंत्री होंगे. अब देखना ये है बीजेपी के घोषणा पत्र पर जनता कितना यकीन करता है.

Back to top button
E-Paper