सीधी बुआई के लिए बहुत ही उत्साह वर्धक है धान की सीओ-51 प्रजाति

क़ुतुब अन्सारी

बहराइच । जिला कृषि अधिकारी सतीश कुमार पाण्डेय ने बताया कि खरीफ-2020 में बुआई हेतु कृषि विभाग के राजकीय कृषि बीज भण्डारों पर धान एनडीआर-2065, धान सांभा सब-1 व धान सीओ-51 व ढैंचा के गुणवत्ता युक्त बीज उपलब्ध हैं। उपलब्ध बीजों में धान सीओ-51 प्रजाति 115-120 दिन की प्रजाति है जिसकी औसत उपज 50-60 कुन्तल प्रति हे. है जो ब्लास्ट बीपीएच, ग्रीन लीप हापर के लिए मध्यम अवरोधी भी है। इसकी रोपाई नर्सरी से अधिकतम 18-21 दिन के अन्दर करना है। यह प्रजाति सीधी बुआई के लिए बहुत ही उत्साह वर्धक है। इसका दाना बीपीटी 5204(सांबा मंसूरी) की भांति है। श्री पाण्डेय ने जनपद के किसानों को सुझाव दिया है कि राजकीय कृषि बीज भण्डारों से गुणवत्ता युक्त धान बीज क्रय कर समय से नर्सरी डालें तथा रोपाई का कार्य समय से पूर्ण करें ताकि अच्छा उत्पादन प्राप्त हो सके।


जिला कृषि अधिकारी ने कृषकों को यह भी सलाह दी है कि जनपद के राजकीय कृषि बीज भण्डारों से ढैंचा की पल्टाई के उपरान्त धान की फसल में फास्फेटिक उर्वरकों के कम मात्रा में उपयोग से ही अच्छा उत्पादन प्राप्त किया जा सकता है। जिप्सम जनपद के राजकीय कृषि बीज भण्डारों पर उपलब्ध है। भण्डार से क्रय किये गये कृषि निवेशों पर देय अनुदान का भुगतान सम्बन्धित कृषकों के बैंक खाते में डीबीटी के माध्यम से किया जायेगा।
श्री पाण्डेय ने किसानों से अपील की है कि वर्तमान में कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए कृषि से सम्बन्धित सभी कार्यों में सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन करें। चेहरे पर मास्क अथवा गमछे का प्रयोग अवश्य करें। भण्डार पर उपलब्ध साबुन से हाथों को अच्छी तरह धोने अथवा सेनेटाइजर से सेनेटाइज करने के उपरान्त ही भण्डार प्रभारी से बीज क्रय करें।

Back to top button
E-Paper