खलासी बन पहुंचे सीओ ने पकड़ी अवैध वसूली, पूरी चौकी सस्पेंड

अवैध वसूली में लिप्त पूरी मेहरौना चौकी इंचार्ज समेत सभी पुलिस कर्मी निलंबित
-एडीजी के निर्देश पर एसएसपी ने की कार्रवाई

गोरखपुर। बिहार बार्डर के जिलों से बिना कागजात मोरंग बालू की ट्रकों को पास कराए जाने के मामले में पुलिस अधीक्षक देवरिया श्रीपति मिश्र ने बड़ी कार्रवाई की है। एसपी के निर्देश पर ट्रक खलासी बन पहुंच सीओ ने अवैध वसूली को पकड़ा। जिसके बाद एसपी देवरिया ने अवैध वसूली में लिप्त पाए जाने पर देवरिया जनपद की मेहरौना के चौकी इंचार्ज समेत 8 पुलिस कर्मियों को सस्पेंड कर दिया तथा एक सिपाही समेत दो पीआरडी जवानों के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया गया है ।

बता दें, बिहार बार्डर से सटे तमाम जिलों समेत देवरिया जिले के लार थाने की मेहरौना चौकी पुलिस की मदद से बिना कागजात मोरंग बालू की ट्रकों पास कराकर प्रदेश की लाखों-करोड़ों के राजस्व क्षति की शिकायत पुलिस उच्चाधिकारियों को काफी दिनों से मिल रही थी। जिसको लेकर गोरखपुर जोन के एडीजी दावा शेरपा ने एसपी देवरिया को पत्र लिखकर मामले की जांच के साथ ही आश्यक कार्रवाई का निर्देश दिया था। एडीजी के निर्देश पर एसपी देवरिया श्रीपति मिश्र ने सीओ सलेमपुर वरुण मिश्रा को मामले की जांच सौंपी। जिसके बाद सीओ वरूण मिश्र ने छद्म वेश-भूषा धारण कर ट्रक खलासी बन मेहरौना चौकी पर पहुंचे, जहां चौकी के सिपाही व दो पीआरडी जवानों को वसूली करते पकड़ लिया। जिसके बाद एसपी देवरिया ने मेहरौना चौकी इंचार्ज समेत आठ पुलिस कर्मियों को सस्पेंड कर दिया ।

तथा वसूली कर रहे सिपाही व पीआरडी जवानों के खिलाफ एसपी के निर्देश पर संबंधित धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।
पुलिस अधीक्षक देवरिया श्रीपति मिश्रा ने चौकी इंचार्ज समेत सभी को निलम्बित करने के तत्काल बाद ही प्रमोद कुमार सिंह को चौकी इंचार्ज सहित अन्य पुलिस कर्मियों की नियुक्ति कर दी गई है।

Back to top button
E-Paper