ट्रांसफर के लिए अब डीजीपी मुख्यालय के चक्कर लगाने की जरुरत नहीं, SMS से मिलेगी सूचना

यूपी के सिपाहियों से लेकर इंस्पेक्टर तक को अपने ट्रांसफर की सूचना पाने के लिए अब डीजीपी मुख्यालय के चक्कर नहीं काटने होंगे। ट्रांसफर होने और न होने की सूचना उनके मोबाइल पर बतौर एसएमएस भेज दी जाएगी। इसके लिए एक विशेष सॉफ्टवेयर तैयार किया गया है।

सूत्रों के मुताबिक ट्रांसफर के लिए डीजीपी मुख्यालय पर आवेदन देने वालों की सूचना एक विशेष सॉफ्टवेयर के जरिए दर्ज की जा रही है। इसमें आवेदन की सूचना दर्ज करते ही एक यूनिक नंबर जनरेट होता है, जो आवेदनकर्ता के दिए गए मोबाइल पर पहुंच जाता है।

इसके बाद आवेदन पर जो भी निर्णय लिया जाएगा, उसकी सूचना आवेदनकर्ता के मोबाइल पर बतौर एसएमएस उपलब्ध कराई जाएगी। इतना ही नहीं, स्थानांतरण न किए जाने पर उसका कारण भी आवेदक को बताया जाएगा।

लोक शिकायत की तर्ज पर बनाया गया है नया सॉफ्टवेयर

डेमो

डेमो पिक्चर 
आईजी लोक शिकायत रहे मोहित अग्रवाल ने आवेदकों की शिकायतों के त्वरित निस्तारण व उनकी मॉनिटरिंग के लिए एक विशेष सॉफ्टवेयर तैयार करवाया था। यह प्रयोग काफी सफल रहा, एक ओर शिकायतों के निस्तारण में तेजी आई तो दूसरी ओर शिकायतकर्ता को भी बार-बार डीजीपी मुख्यालय के चक्कर नहीं लगाने से मुक्ति मिल गई।

इस तर्ज पर डीजीपी ओम प्रकाश सिंह ने भी स्थानांतरण को लेकर एक विशेष सॉफ्टवेयर तैयार करने को कहा था। वह सॉफ्टवेयर अब तैयार है। यही नहीं, अब इसी सॉफ्टवेयर के जरिये ट्रांसफर के लिए आवेदन लिए जा रहे हैं।

Back to top button
E-Paper