कोरोना संकट : वुहान में फिर सामने आए नए मामले, सभी 1.1 करोड़ लोगों की होगी जाँच

जिस वुहान शहर से कोरोना वायरस फैलना शुरू हुआ था, चीन वहां के सभी नागरिकों का कोरोना वायरस टेस्ट करने की तैयारी कर रहा है। शहर में लगभग 1.1 करोड़ लोग रहते हैं और अगर चीन ऐसा करने में कामयाब रहता है तो ये अपने आप में अद्वितीय होगा। पिछले दो दिनों में वुहान में फिर से कोरोना वायरस के मामले सामने आने के बाद चीनी प्रशासन की और से ये फैसला लिया गया है।

दिसंबर में वुहान में फैलना शुरू हुआ था कोरोना वायरस
दुनियाभर में प्रकोप मचा रहे कोरोना वायरस की शुरूआत पिछले साल दिसंबर में वुहान से हुई थी। शहर में सीफूड का एक बड़ा बाजार है। माना जा रहा है कि यहीं से ये वायरस या तो चमगादड़ से सीधा इंसान में आया या फिर चमगादड़ से किसी दूसरी प्रजाति और फिर उससे इंसान में आया। 23 जनवरी को शहर को पूरी तरह से बंद कर दिया गया था और यहां 50,333 लोग इससे संक्रमित हुए, वहीं 3,869 की मौत हुई।

8 अप्रैल को लॉकडाउन खत्म होने के बाद 10 मई को सामने आया पहला मामला
दो महीने से अधिक समय के बाद 8 अप्रैल को वुहान में लॉकडाउन को खत्म किया गया और तब से 9 मई तक वहां कोरोना वायरस का कोई मामला सामने नहीं आया। लेकिन 10 और 11 मई को ये स्थिति बदल गई और एक ही आवासीय परिसर में रहने वाले छह लोगों को कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया। ये सभी पहले से ही क्वारंटाइन में थे और उनमें वायरस के कोई लक्षण नहीं दिखे थे।

अधिकारियों को वुहान के सभी लोगों की टेस्टिंग की तैयारी करने का आदेश
इन नए मामलों के बाद चीन सतर्क हो गया है और महामारी दोबारा से वुहान में पैर न फैलाए, इसके लिए शहर के सभी 1.1 करोड़ लोगों का टेस्ट करने का फैसला किया है।

वुहान के एंटी-वायरस विभाग के एक दस्तावेज में शहर के सभी जिलों के अधिकारियों को ऐसी योजना पेश करने को कहा गया है जिससे उनके इलाके में आने वाले सभी लोगों का टेस्ट किया जा सके। सबसे अधिक खतरे वाले समूहों को प्राथमिकता दी जाएगी।

चीन के सामने अर्थव्यवस्था खोलने पर दोबारा संक्रमण फैलने का खतरा
भले ही वुहान में बेहद कम नए मामले सामने आए हैं, लेकिन ये अर्थव्यवस्था को खोलते समय चीन के सामने खड़े खतरे के बारे में आगाह करते हैं। वुहान के अलावा देश के अन्य हिस्सों में भी नए मामले देखने को मिल रहे हैं।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के प्रवक्ता मी फेंग के अनुसार, पिछले 14 दिनों में सात प्रांतों में नए मामले सामने आए हैं और क्लस्टर मामलों की संख्या लगातार बढ़ रही है।

11 नए मामले आने के बाद शुलान शहर आंशिक तौर पर बंद
चीन वायरस के दोबारा सिर उठाने को लेकर कितना चिंतित है, इसकी एक बानगी रविवार को देखने को मिली जब उत्तर कोरिया की सीमा से लगने वाले शुलान शहर को 11 नए मामले सामने आने के बाद आंशिक तौर पर बंद कर दिया गया।

बता दें कि चीन के कई शहरों में अभी भी सिनेमा हॉल और बार आदि को खुलने की इजाजत नहीं है और लोगों के इकट्ठा होने पर प्रतिबंध लगा हुआ है।

Back to top button
E-Paper