PM मोदी को जान का खतरा, सामने आया धमकी भरा ई-मेल

नयी दिल्ली : कुछ दिन पहले खबर आई थी कि आतंकी संगठन आईएसआईएस ने गोवा में एक गुमनाम पत्र भेजकर प्रधानमंत्री मोदी और रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर को कथित तौर पर जान से मारने की धमकी दी थी। उत्तर प्रदेश पुलिस ने रामवीर नाम के एक शख्स को गिरफ्तार किया था, जिसने मथुरा में होने वाली एक रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जान से मारने की धमकी दी थी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर ‘‘रासायनिक हमले’’ की धमकी देने और राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) के नियंत्रण कक्ष में फोन करने के आरोप में पुलिस ने मुंबई से 22 वर्षीय युवक को गिरफ्तार किया है। जो सिक्योरिटी गार्ड के तौर पर काम करता था, उसका नाम काशीनाथ मंडल था। पुलिस ने उसे 27 जुलाई 2018 को गिरफ्तार किया था। वही एक बार फिर खबर आ रही है कि दिल्ली पुलिस कमिश्नर को धमकी भरा ई-मेल आया है। इसमें प्रधानमंत्री को जान से मारने की धमकी दी गई है। इस ई-मेल के बाद पुलिस प्रशासन व खुफिया एजेंसियों में हड़कंप मच गया है।

बताया जा रहा है कि दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक को एक लाइन का धमकी भरा ईमेल मिला है। इस में मेल में पीएम नरेंद्र मोदी को जान से मारने की धमकी दी गई है। कहा जा रहा है कि यह किसी असम के शख्स ने भेजा है।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल का कहना है ऐसा कोई मेल उनकी जानकारी में नहीं है, किसी मेल या लेटर पर कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है। स्पेशल सेल के कमिश्नर ने बताया कि कई बार ऐसे मेल, कॉल आते हैं कि किसी को मार देंगे या बम है, लेकिन वो फर्जी जानकारी होती है। उन्होंने कहा कि आमतौर पर ऐसा होता है लेकिन पीएम को धमकी भरा मेल मिला है या नहीं इसके बारे में उन्हें जानकारी नहीं है।

वहीं खूफिया सूत्रों का कहना है कि ईमेल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नवंबर 2019 में पीएम को मारने की धमकी दी गई है। ईमेल में एक दिन का भी जिक्र किया गया है। दिल्ली पुलिस की टीमें ईमेल भेजने वाले की तलाश में जुटी हैं।

अब तक मिली जानकारी के अनुसार ईमेल उत्तर पूर्व के एक राज्य से आने का संकेत मिला। खुफिया एजेंसियो ने भी अपनी जांच शुरू कर दी है। इसके पहले नक्सली लीडरों के लैपटाप में मिली थी पीएम को मारने की साजिश।

Back to top button
E-Paper