कही जरवल मे भी कोरोना वायरस का कहर न बरपा दे ये लोग ?

शोहदों की तरह गली-गली मोहल्ले-मोहल्ले घूमते नजर आ रहे ये लोग करते रहते है एक दूसरे से गलबहिया !

अशोक सोनी
जरवल/बहराइच l हर रोज आ रही कोरोना वायरस की पॉजिटिव रिपोर्ट से अब जरवल विकास खण्ड भी अछूता नही रह गया है सैकड़ो की तादात मे दिल्ली मुम्बई चैन्नई गुजरात आदि बड़े महानगरों से प्रवासी मजदूरों के आने का सिलसिला भी बदस्तूर जारी है जिन्हे होम क्वॉरेंटाइन तक नहीं किया गया है जिनकी संख्या सैकड़ों के पार कर चुकी है ऐसे लोग संक्रमित भी हो सकते हैं जो जरवल कस्बा के विभिन्न वार्डों में सुबह से लेकर देर रात तक शोहदों की तरह घूम फिर कर एक दूसरे से गलबहिया भी करते देखे जा रहे हैं

जो कस्बे के लिए शुभ संकेत नहीं है बावजूद इसके प्रशासनिक तौर पर इन लोगों के ऊपर कोई भी कार्यवाही नहीं की जा रही है जो लोग यहां पर होम क्वॉरेंटाइन किए गए हैं वह लोग भी गली चौराहों पर घूमते फिरते नजर आ रहे हैं ऐसे लोगों पर भी शायद पुलिस की निगाह नहीं पड़ रही है जोकि कस्बे वालों की सेहत भी खराब कर देंगे जब कि एसे लोगो के बारे मे प्रशासन को बार बार लोग सूचना भी दे रहे हैं फिर भी सरकारी अमला लोगो की बात को अनसुना करता दिख रहा है।बताते चले यहाँ बाजारों मे भी अब कोई सामाजिक दूरी का तो पालन करना छोड़ ही दिए है मास्क लगाना भी लोग अपनी तौहीन समझ रहे हैं बगैर मास्क के लोग सुबह से शाम तक लोग बेखबर होकर घूमते फिरते नजर आते है जिस पर भी कोई अंकुश नही लग सका है जबकि इस तरह शासन की गाइड लाइन के उलंघन पर जुर्माने का भी प्राविधान है।

जरवल मे नही बन पाई है निगरानी समिति
एसडीएम कैसरगंज शिव प्रसाद समेत जरवल नगर पंचायत के ईओ देव कुमार के अलावा पुलिस महकमे के जिम्मेदार अधिकारी ये नही बता पा रहे हैं कि यहाँ भी निगरानी समिति होना चाहिए जिस कारण जरवल नगर पंचायत मे निगरानी समिति नही बन सकी है यदि लोग बाहरी लोगों को आने की सूचना भी देते है तो जिम्मेदार अधिकारी बे-मन से सूंन तो लेते है पर जमीनी तौर पर ध्यान भी नही देते जो भविष्य के लिए बड़े खतरे को संकेत दे रहा है।

Back to top button
E-Paper