खुद से मांग भरकर गुजरातन लड़की बनी दुल्हनिया, कुछ इस तरह से लिये सात फेरे

गुजरात के वडोदरा की 24 साल की क्षमा बिंदु ने बुधवार को खुद से शादी कर ही ली। क्षमा पहले 11 जून को शादी की रस्में करने वाली थीं, लेकिन विवाद से बचने के लिए तीन दिन पहले ही शादी की। इस दौरान हल्दी, मेहंदी की रस्में हुईं, अकेले फेरे भी लिए और आईने के सामने खड़े होकर मांग भी भरी। खुद ही मंगलसूत्र पहना। शादी करवाने के लिए किसी पंडित के तैयार न होने पर मोबाइल पर मंत्रोच्चार हुआ।

क्षमा की शादी में कुछ खास दोस्त ही शामिल

वडोदरा के गोत्री इलाके में रहने वाली क्षमा की शादी में उनके कुछ खास दोस्त ही शामिल हुए। शादी के बाद क्षमा ने हनीमून के लिए गोवा को चुना है, यहां पर वह दो हफ्ते रहेंगी।

आज पुरी हुई दुल्हन बनने की तमन्ना

क्षमा का इस आत्मविवाह को लेकर कहना है, ‘मैं कभी शादी नहीं करना चाहती थी, लेकिन दुल्हन बनना चाहती थी। इसलिए मैंने खुद से ही शादी करने का फैसला किया। शायद अपने देश में मैं सेल्फ-लव का एक उदाहरण सेट करने वाली पहली लड़की हूं।’

महिलाएं भी मायने रखती हैं

इस बारे में क्षमा का कहना है, ‘लोग इस तरह की शादी को इर्रेलेवेंट माना सकते हैं, लेकिन मैं यह बताना चाहती हूं कि महिलाएं भी मायने रखती हैं। लोग उस इंसान से शादी करते हैं, जिससे वो प्यार करते हैं। मैं खुद से प्यार करती हूं। इसलिए आत्मविवाह किया।’

पुणे की इस कंपनी में करती है नौकरी

बिंदु पुणे स्थित एक कंपनी के वडोदरा स्थित आउटसोर्सिंग ऑफिस में काम करती हैं। उन्होंने समाजशास्त्र विषय के साथ इसी साल एमएस यूनिवर्सिटी-वडोदरा से BA भी किया है।

सरनेम की बजाय ‘बिंदु’ शब्द का प्रयोग

क्षमा मूलत: केन्द्र शासित प्रदेश दमण की रहने वाली हैं, लेकिन वडोदरा के सुभानपुरा क्षेत्र में रहती हैं। नाम के साथ सरनेम की बजाय ‘बिंदु’ शब्द प्रयोग करती हैं। क्षमा ने कहा कि- एक वेबसीरीज के इस डायलॉग का मुझ पर गहरा असर हुआ।

Back to top button