चीन में एक के बाद एक चार भूकंप के झटके, इतने किलोमीटर गहराई तक हिली धरती

बीजिंग। चीन में गुरुवार-शुक्रवार की रात एक के बाद चार भूकंप के झटके लगने से स्थिति भयावह हो गयी। रिक्टर पैमाने पर इन भूकंपों की तीव्रता 5.9 तक पहुंच गयी थी। भूकंप से 19.9 किलोमीटर गहराई तक धरती हिली। शुक्रवार सुबह आए भूकंप के झटकों की तीव्रता कम होकर 4.5 पहुंच गयी।

चीन के सिचुआन प्रांत के नगवा तिबेतन और क्वांग से 59 किलोमीटर की दूरी पर केंद्रित भूकंप के झटके गुरुवार रात नौ बजकर 33 मिनट पर लगे। इन झटकों की तीव्रता 5.6 मापी गयी। तेज झटकों से लोग कांप उठे। भारी संख्या में लोग घरों से बाहर निकल आए। सरकार की ओर से भूकंप से प्रभावित लोगों की मदद के प्रयास शुरू ही हुए थे, कि कुछ देर बाद इसी क्षेत्र में पुन: और अधिक तीव्रता वाले भूकंप के झटके महसूस किये गए। रात दस बजकर 58 मिनट पर पुन: तेज भूकंप आया।

इस बार भूकंप का केंद्र पुराने केंद्र से महज नौ किलोमीटर आगे यानी नगवा तिबेतन और क्वांग से 68 किलोमीटर की दूरी पर था। इन झटकों की तीव्रता 5.9 मापी गयी। तेज भूकंप के झटकों से लोग डर गए और फिर पूरी रात घरों के भीतर जाने का साहस न जुटा सके। उनका डर सही भी साबित हुआ। कुछ ही देर बाद यानी आधी रात के बाद 12 बजकर 57 मिनट पर पुन: भूकंप के झटके आए। हालांकि इस बार भूकंप की तीव्रता पहले से कम, 4.9 मापी गयी।

इसके बाद शुक्रवार सुबह दो बजकर सात मिनट पर पुन: इसी क्षेत्र में भूकंप के झटके आए। इस बात तीव्रता और कम होकर 4.5 पहुंच गयी थी। यूनाइटेड स्टेट्स जियोलॉजिकल सर्वे ने भूकंप के इन झटकों की पुष्टि करते हुए बताया कि भूकंप का केंद्र तियांगपेंग से 248 किलोमीटर उत्तर पश्चिम में था। भूकंप इतना भीषण था कि 19.9 किलोमीटर गहराई तक धरती हिल गयी।

Back to top button